Published On : Mon, Nov 5th, 2018

सरकारी बसों की टिकट बढोत्तरी का विरोध

प्रदेश युवक कांग्रेस शिष्टमंडल ने विभागीय नियंत्रक को निवेदन सौंपा

नागपुर: निजी परिवहन सेवा और शहर बस सेवा की तर्ज पर राज्य परिवहन मंडल भी त्योहारों के अवसरों पर टिकटों की दर में वृद्धि कर आम जनता पर कहर ढाह रही है. इस सन्दर्भ में महाराष्ट्र प्रदेश युवक कांग्रेस द्वारा महाराष्ट्र राज्य मार्ग परिवहन महामंडल के विभागीय नियंत्रक अशोक वरठे को इस दर बढ़ोत्तरी को वापस लेने की मांग की. बताते चलें कि एसटी महामंडल ने दीपावली के त्योहारी सीजन में 1 से 20 नवंबर तक 10 प्रतिशत टिकट वृद्धि का फ़ैसला लिया है, जिसका विरोध किया जा रहा है.

पहले से सूखे की मार झेल महाराष्ट्र के ग्रामीण भागों के लोगों के लिए ऐन त्योहारी सीजन में यह बढ़त उन्हें एसटी कसूखे की स्थिति बनी हुई है.
जिस तरीके से महाराष्ट्र के कई ज़िले को सुखाग्रस्त घोषित किया गया है, जहाँ के लोग वैसे ही पीड़ित है व केवल 20 दिनों के लिए त्योहारों के अवसर पर बस दर वृद्धि की गई है,जिससे रोजाना इन्हीं बसों के यात्रा करने से पहले सोचने पर मजबूर कर रहा है.

युवक कांग्रेस द्वारा परिवहन विभाग को चेतावनी दी कि 24 घंटे के अंदर अगर दर वृद्धि वापस नहीं ली गई तो युवक कांग्रेस तीव्र आंदोलन करेगा और इसकी जिम्मेदारी पूरी तरह सरकार की होगी.

निवेदन देने के दौरान महाराष्ट्र युवक कांग्रेस के प्रदेश सचिव नीलेश खोरगड़े, अजित सिंह, धीरज पांडे, कुणाल पुरी, आकाश गुजर, आनंद तिवारी, किशोर गिद, चक्रधर भोयर, पिन्टू तिवारी, हर्षल पाल, अहिंसक वाहणे, पीयुष वाकोडीकर, अनमोल लोनारे, आकाश चौरिया, सूरज थापा, पराग वानखडे, आकाश कथलकर, लक्की मोहोड आदी प्रमुख रूप से उपस्तिथ थे.