Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Fri, Aug 14th, 2020

    अब डाकिया बन गए ATM

    – घर पहुंच सेवा के साथ रोजाना 10,000 रुपए तक उपलब्ध करवा रहे

    नागपुर – बैंकों में भीड़भाड़ करने,घंटों कतारबद्ध खड़े रहने से मुक्ति पाने और तो और कोरोना महामारी काल में एक दूसरे से दूरी बनाए रखने हेतु मोदी सरकार ने आम गरीब तबके के नागरिकों खासकर महिलाओं के लिए अभिनव योजना शुरू की। अर्थात सम्पूर्ण देश के डाकघर के डाकियों को ATM का स्वरूप दे दिया गया। इस योजना को भारी सफलता मिल रही हैं।

    प्राप्त जानकारी के अनुसार सभी डाकियों को उक्त योजना के तहत प्रशिक्षण दिया गया हैं, विशेष कर यह योजना जनधन के खाता धारियों अर्थात अल्प बचत कर्ताओं के लिए शुरू की गई थी। लेकिन अब यह सभी राष्ट्रीयकृत बैंकों के खाताधारियों को लाभ पहुंचाया जा रहा। रोजाना डाकिए उनके अधिनस्त क्षेत्रों के नगद माँगकर्ताओं के लिए 20000 नगद लेकर निकलते हैं, इससे भी ज्यादा जरूरत पड़ी तो अपने संबंधित डाकघर से नगद लेकर ग्राहकों को निशुल्क सेवा दे रहे हैं। डाकिए के अनुसार 1 ग्राहक को अधिकतम 10000 रुपए ही दे सकते हैं।

    इसके लिए ग्राहक के पास आधार कार्ड क्रमांक या आधार कार्ड होना अनिवार्य हैं। ऑनलाइन सम्पूर्ण जांच पड़ताल बाद माँगकर्ता ग्राहकों को नगद राशि दी जाती हैं। इसके लिए डाकघर प्रबंधन ने काफी जनजागरण किया,खासकर सरकारी महकमों में।डाकघर के इस योजना से कोरोना के लिए तय की गई दूरी/अंतर का पालन हो रहा,बैंकों में न भीड़ और न ही ग्राहकों को देरी हो रही।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145