Published On : Thu, Sep 29th, 2016

गोकुलपेठ बाजार में गुंडे को गोलियों से भूना

Sachin Somkuwar Murder

 

नागपुर: पिस्तौल से लैस अपराधियों ने गुरुवार को दिनदहाड़े अत्यंत व्यस्त गोकुलपेठ बाजार में पुलिस चौकी के सामने प्रतिद्वंद्वी को गोलियों से भून डाला. इस वारदात में उसका साथी भी जख्मी हो गया है. दोपहर में हुई इस वारदात से गोकुलपेठ बाजार में दहशत फैल गई. मृतक सचिन उर्फ डुंड्या प्रकाश सोमकुंवर (38) मुंजे बाबा ले-आऊट तथा जख्मी सुरेश डोंगरे है.

सचिन के खिलाफ हत्या सहित छह-सात मामले दर्ज है. उसने 21 अप्रैल 2014 को अपराधी बाल्या उईके की पांढराबोड़ी में हत्या की थी. इसके बाद से सचिन का पांढराबोड़ी और गोकुलपेठ बाजार में दबदबा हो गया था. जमानत पर रिहा होने के बाद उसने पूर्व नागपुर के गैंगस्टर का हाथ थाम लिया था. गैंगस्टर द्वारा आर्थिक मदद किए जाने से सचिन की ताकत काफी बढ़ गई थी. इससे बाल्या के साथी राज्या परतेकी, अंकित पाली, बिट्ट उर्फ अशफाक काफी आहत थे. वह सचिन को ठिकाने लगाने की फिराक में थे. सचिन के पिता गोकुलपेठ बाजार में सब्जी का ठेला लगाते हैं.

दोपहर करीब 1 बजे सचिन अपने साथी सुरेश डोंगरे के साथ गोकुलपेठ बाजार पहुंचा. दोनों ने एक दुकान में चाय पी. यहां से निकलने लगे. सुरेश ने बाइक स्टार्ट की. सचिन बाइक पर बैठने लगा. उसी वक्त लक्ष्मी भवन चौक की दिशा से आए दो युवकों ने उस पर पिस्तौल तान दी. घटनास्थल के समीप ही हमलावर युवकों के साथी भी छिपे हुए थे. उन्होंने भी सचिन और सुरेश को घेर लिया.

दोनों कुछ समझ पाते इसके पहले ही हमलावरों ने गोलियां चला दीं. उनका निशाना सचिन ही था. फायरिंग होते ही सुरेश भागने लगा. इस प्रयास में एक गोली उसे छूकर निकल गई. हमलावरों ने उसे नजरअंदाज करके एक दर्जन से अधिक फायर किए. सचिन ने मौके पर ही दम तोड़ दिया.