Published On : Fri, Oct 13th, 2017

मनपा स्वास्थ्य विभागप्रमुख दासरवार पहुंचे हाजिरी लेने

NMC Nagpur
नागपुर: आशीनगर जोन के प्रभाग तीन में सफाई कार्यों में अनियमितता व कर्मचारियों की हाजिरी लगाकर गायब रहने की शिकायत के बाद मनपा आयुक्त ने संबंधित अधिकारियों को मामले की जांच करने के निर्देश दिए थे. शिकायत नगरसेविका खान नसीम बानो इब्राहिम के नेतृत्व में प्रभाग के कुछ नागरिकों ने की थी. जब अधिकारी प्रभाग में सफाई कर्मियों की अचानक हाजिरी लेने पहुंचे तो वहां बड़ा घोटाला उजागर हुआ. कुल 107 कर्मचारियों व ऐवजदारों में से 32 नदारद पाए गए. इतना ही नहीं, जब जांच करने अधिकारी पहुंचे तो प्रभाग 3 के सफाई निरीक्षक संतोष पसेरकर ही अनुपस्थित थे. आशीनगर जोन के जोनल अधिकारी भी उपस्थित नहीं थे. नगरसेविका ने बताया कि हाजिरी लगाकर कर्मचारियों के गायब होने का सिलसिला अरसे से चल रहा है. जिसके कारण प्रभागों में साफ-सफाई का कार्य बुरी तरह प्रभावित होता है. वे यह मुद्दा आगामी सर्वसाधारण सभा में भी उठाने वाली हैं.

बिना सूचना दिए निरीक्षक छुट्टी पर
आयुक्त मुदगल ने स्वास्थ्य विभाग अतिरिक्त उपायुक्त जयंत दांडेगांवकर को इस मामले की जांच करने के निर्देश दिए थे, जिसके लिए उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारी प्रदीप दासरवार को प्रभाग में जाकर जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे.

मंगलवार को सुबह 7 बजे ही दासरवार प्रभाग में पहुंच गए. तब स्वच्छता निरीक्षक पसेरकर ही अनुपस्थित मिले. जोन के स्वास्थ्य अधिकारी बी.ई. रंगारी भी नहीं आए थे. दासरवार ने उन्हें फोन कर बुलाया. पूछताछ में खुलासा हुआ कि सफाई निरीक्षक बिना छुट्टी का आवेदन दिए ही गायब थे. जब हाजिरी ली गई तो तो नियमित 32 कर्मियों में से 12 गायब थे, 74 ऐवजदारों में से 20 अनुपस्थित थे. कुल 107 कर्मियों में से 32 कर्मचारी बिना बताए अनुपस्थित पाए गए. इस दौरान नगरसेविका नसीम बानो, भाजपा के इब्राहिम खान, सलीम शेख, शबाना अंजुम, अशफाक शेख व अन्य नागरिक भी उपस्थित थे.

संबंधितों पर होगी कार्रवाई
जांच के दौरान प्रभाग के करीब 200 नागरिक वहां जुट गए थे. सभी की शिकायत थी कि बड़े पैमाने पर सफाई कर्मचारी हाजिरी लगाकर भी गायब हो जाते हैं. जिससे प्रभाग में सफाई नहीं हो रही है. गंदगी के चलते बीमारी फैलने का खतरा बढ़ गया है. दासरवार ने इस मामले में जल्द ही संबंधितों पर प्रशासकीय कार्रवाई का आश्वासन दिया. नगरसेविका ने कहा कि प्रभाग की सफाई की समस्या गंभीर हो गई है और इसका तत्काल निवारण जरूरी है. वे 16 अक्टूबर को होने वाली मनपा की सभा में यह मुद्दा उठाएंगी.