Published On : Mon, Dec 23rd, 2019

अर्थव्यवस्था पर नितिन गडकरी का बयान- पैसों की कमी से गुजर रहा भारत, जल्द से जल्द लेने होंगे फैसले

नागपुर: भारत मंदी के दौर से गुजर रहा है. विपक्ष मोदी सरकार की नीतियों पर सवाल खड़े कर रहा है. सरकार मंदी की बात तो स्वीकार कर रही है लेकिन विपक्ष के आरोपों को नकार रही है. इस बीच केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने नागपुर में अर्थव्यवस्था को लेकर कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) चुनौतीपूर्ण दौर से गुजर रही है और देश में इस समय नकदी की कमी है. इसके लिए जल्द से जल्द फैसले लेने होंगे.

नितिन गडकरी ने कहा, ‘मैनें कुछ वरिष्ठ अधिकारियों को अपने घर पर बुलाया था और उनसे कहा कि कुछ मामले करीब 89 हजार करोड़ रुपए के हैं. मैं आपको ये नहीं बताऊंगा कि आपको क्या करना है, मैं आपको बस इतना बताऊंगा कि देश की अर्थव्यवस्था चुनौतीपूर्ण दौर से गुजर रही है. बाजार में नकदी की कमी है और हमें जल्द से जल्द फैसले लेने होंगे.’


नितिन गडकरी का यह बयान उस समय आया है जब विपक्षी पार्टियां केंद्र सरकार पर अर्थव्यवस्था को तबाह करने का आरोप लगा रही हैं. कांग्रेस लगातार अर्थव्यवस्था, बेरोजगारी, गिरती जीडीपी, महंगाई, एनआरसी और हाल ही में संशोधित हुए नागरिकता कानून को लेकर भी मोदी सरकार पर हमलावर है. हाल ही में ‘ऐसोचैम’ की वार्षिक बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि भारत तेजी से 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था की दिशा में कदम बढ़ा रहा है. यह मुश्किल जरूर है लेकिन नामुमकिन नहीं. सरकार का दावा है कि 2025 तक भारत 5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी वाला देश बन जाएगा.