Published On : Wed, Jul 19th, 2017

कार्रवाई के बाद भी नियम ताक पर रखकर शुरू है धडल्ले से निडोज बार

Needos Bar
नागपुर:
कल बीती रात धंतोली पुलिस ने मुंजे चौक स्थित निडोस बार में छापा मार कारवाई की। कारवाई के दौरान बिना अनुमति के बार में आर्केस्ट्रा सुगम संगीत का कार्यक्रम शुरू था। पुलिस को देखते ही भूल भूलैया जैसे बने बीर के भीतर सायरन बज उठा। सायरन बजते ही बार मालिक, मैनेजर और वेटर सब अलर्ट हो गए। कुछ ही मिनटों में शराब के ग्लास हटाकर कर कोल्ड्रिंक के ग्लास भर दिए गए। ग्राहकों को चेतावनी दी गई यदि पुलिस ने पुछा तो बता देना कि हम पहले से ही शराब बहार से पीकर आए हैं और यहां संगीत सुन रहे हैं। संगीत में थिरक रही बार बाला भी अपनी कुर्सी में जाकर बैठ गई और माईक पर गाना गाने लगी। धंतोली पुलिस को बार के भीतर जहां आर्केस्ट्रा शुरू रहता है वहां जाने के लिए लगभग 7 से 8 मिनिट लगते हैं।

सूत्रों के अनुसार बार के भीतर पुलिस के पहुंचते ही पहले तो वेटर जल्द दरवाजा नहीं खोलता तो कभी चाबी का बहाना मारता है। तब तक पुलिस दरवाजे के बाहर ही खड़ी रहती है। पुलिस जब दरवाजा खोलने के बाद अंदर घुसती है तब पुलिस भी चकरा जाती है। अंदर बिलकुल शांत वातावरण रहता है। ग्राहक बताए अनुसार कोल्ड्रिंग पीने का बहाना करते दिखाई देते हैं। पुलिस की सख़्ती पर बार मालिक द्वारा ग्राहकों को परेशान ना करने की बात कहकर चालान कार्वाई करने की बात कही जाती है। कुछ पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों ने अपना नाम न बताने की शर्त पर नागपुर टुडे को बताया है कि जब निडोल्स बार मालिक राजीव जैस्वाल पुलिस को धौस जमाते दिखाई देते हैं।

पुलिस भी कानून के बाहर जाकर कार्रवाई नहीं कर सकती इसलिए पुलिस भी चालान कार्रवाई करके निकल जाती है। इसी माह 15 जुलाई को धंतोली पुलिस ने निडोल्स बार में चालान कार्रवाई की थी।

निडोस बार ने नागपुर पुलिस की नाक में दम कर रखा है। अब सबकी निगाहें इस बात पर लगी है कि नागपुर पुलिस निडोस बार और उसके मालिक पर सख़्त क़दम किस तरह उठाती है। फिलहाल धंतोली पुलिस ने बीती रात को 33 R/O , 131 (1 )महाराष्ट्र पुलिस क़ानून के तहत मामला दर्ज किया है। ईस संबंध में हमने नागपुर कमिश्नर डॉ.के वेंकेटेशम से पूछे जाने पर उन्होंने बार मालिक के ख़िलाफ कडी कार्वाई करने की बात कही।

पिछले कुछ दिन पहले भी मुंजे चौक स्थित निडोस बार में पुलिस और राज्य उत्पादन शुल्क विभाग ने छापामार कार्रवाई की थी। इस दौरान बार से चार युवतियां और भारी मात्रा में शराब बरामद हुआ था। कार्रवाई के दौरान मिली युवतियों और बार मालिक को पुलिस ने हिरासत में लिया, जिनसे पूछताछ जारी है। यह बार राजू उर्फ़ राजीव प्यारेलाल जैस्वाल नामक शराब व्यवसायी का है। छापे के दौरान राजू के कैबिन की भी जाँच की गई जहाँ भारी मात्रा में शराब बरामद हुई। अचानक हुई इस कार्रवाई के बाद बार में अफरा-तफरी मच गई।

सूत्रों का दावा है कि बार में दोपहिया से आने वाला युवक कुछ ख़ास ग्राहकों को यह सुविधा उपलब्ध करता है। इससे पहले वर्ष 2014 में भी रेड हुई थी जिसमें भी बार बाला मिली थी। बार मालिक राजू जैस्वाल फ़िलहाल पुलिस की गिरफ़्त में है और उससे पूछताछ जारी है। इस कार्रवाई में 967 शराब की बोतल बरामद की गई थी। पुलिस ने बार से सीसीटीवी फ़ुटेज भी बरामद किया है जिसकी जाँच की जा रही है। इस कार्रवाई को डीसीपी झोन – 2 राकेश ओला, सीताबर्डी एसीपी, एपीआई के. गड्डीमें के साथ धंतोली पुलिस स्टेशन के पुलिस कर्मचारियों ने अंजाम दिया था।