Published On : Fri, Feb 17th, 2017

2019 तक नागपुर मॉडल शहर न बना तो जनता को मुँह नहीं दिखाऊँगा: देवेंद्र फडणवीस

 

नागपुर महानगर पालिका चुनाव के प्रचार में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने गुरुवार को ताबड़तोड़ जनसभाएँ ली। अपनी सभी जनसभा में मुख्यमंत्री ने नागपुर शहर में शुरू विकासकार्यो के बल पर जनता से मनपा की सत्ता की चाभी  भाजपा को सौपनें की अपील की। मुख्यमंत्री ने कहाँ की वर्ष 2019 तक दुनिया के सामने आदर्श शहर के रूप में नागपुर का निर्माण होगा। एक ऐसा शहर जहाँ स्वछता हो, रोजगार हो, विकास हो, इसके लिए केंद्र सरकार, राज्य सरकार और महानगर पालिका इस काम में लगे हैं । यह कार्य अविरत जारी रहे इसलिए भाजपा को फिर मनपा की सत्ता में बैठाये अगर 2019 तक नागपुर मॉडल शहर नहीं बना तो वो और उनकी पार्टी के नेता जनता को मुँह नहीं दिखाएंगे।

 

 

मुख्यमंत्री के प्रत्येक प्रचार सभा में मुख्य तौर पर काँग्रेस पार्टी निशाने में रही। मुख्यमंत्री ने शहर में झोपड़पट्टीवासियो को जमीन अधिकार के पट्टे वितरित किये जाने को भाजपा द्वारा जनता से किया गया वादा निभाने की बात कही। मुख्यमंत्री ने कहाँ काँग्रेस की प्रवृत्ति जमीन हड़पने की है जबकि बीजेपी की प्रवृत्ति गरीब जनता को जमीन का हक दिलाने की है। वर्ष 2019 तक भाजपा 50 हजार युवाओं को रोजगार देगी, इतना ही नहीं शहर में 50 हजार घरों का निर्माण किया जायेगा उन्होंने 10 हजार घरो का निर्माणकार्य शुरू हो जाने की जानकारी भी दी।

 

 

मुंबई का उदहारण देते हुए मुख्यमंत्री ने कहाँ की देश के सबसे धनी शहर मुंबई में अब तक एक भी सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट नहीं है जबकि सिर्फ 1200 करोड़ के बजट वाली नागपुर महानगर पालिका सीवरेज का पानी बेचने का विक्रम किया है। शहर का विकास हो इसलिए जनता दहशत, गुंडागर्दी की राजनीति को शहर से ख़त्म करने के लिए बीजेपी के उम्मीदवारों को चुने। जनता का वोट सिर्फ पार्टी उम्मीदवार को नहीं मिलेगा वो उन्हें, नितिन गड़करी और प्रधानमंत्री मोदी को मिलेगा।