Published On : Thu, Jul 2nd, 2015

नागपुर : मोहपा का महावितरण कार्यालय कर रहा ग्राहकों को गुमराह !

Mohpa
मोहपा (नागपुर)।
मोहपा के महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी के कार्यालय में टंगा सूचना बोर्ड बिजली ग्राहकों को गुमराह कर रहा है. जिससे बिजली ग्राहकों को परेशानी हो रही है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार मोहपा के महाराष्ट्र विद्युत वितरण कंपनी के कार्यालय में सहायक अभियंता के कार्यालय के सामने सूचना बोर्ड टंगा है. यह सूचना अधिकार का बोर्ड बिजली ग्राहकों को गुमराह कर रहा है. कुछ दिन पहले महावितरण कंपनी के कार्यालय में सहायक अभियंता संजय सदाशिव मते अधिकारी पद पर कार्यरत थे तथा लोक सूचना अधिकारी थे. उनका इस कार्यालय से तबादला हुए काफी दिन हो गए. उनके स्थान पर अब वरिष्ठ अधिकारी पी.एम. भाजिपाले की नियुक्ति हुई है. लेकिन लगता है भाजिपाले को नहीं पता कि कार्यालय का सबसे वरिष्ठ अधिकारी संबंधित विभाग का सूचना अधिकारी होता है. भाजिपाले ने अब तक कार्यालय के पूर्व अधिकारी मते का नाम बदलकर अपना नाम बोर्ड पर नहीं लिखवाया है. बोर्ड पर आज भी पूर्व अधिकारी संजय मते का ही नाम है. सूचना के अधिकार की अर्ज़ी किसके नाम से दी जाए? ऐसा प्रश्न बिजली ग्राहकों में है.

सूचना का अधिकार बिजली ग्राहकों के लिए काफी कम खर्चीला है. ग्राहकों को कार्यालयीन कार्य की पारदर्शिता पता होनी चाहिए. इसके अलावा ग्राहक व्यक्तिगत स्तर पर जानकारी मांग सकता है. लेकिन मोहपा के महावितरण कार्यालय के नए अधिकारी पि.एम. भाजिपाले को सूचना के अधिकार के नियम की जानकारी है? कार्यालय के सूचना बोर्ड पर जो अधिकारी अपना नाम नहीं लिख सकता वो दूसरे काम कैसे करेगा? साथ ही जनता की शिकायतों का निवारण होगा क्या? ऐसे कई सवाल नागरिकों में चर्चा का विषय बने हुए है. पूर्व अधिकारी संजय मते कामकाज में बुद्धिवान, तेज़ और सतर्क अभियंता थे. जल्द से जल्द पूर्व अधिकारी का नाम बदलकर नए अधिकारी का नाम बोर्ड पर लिखा जाए. ऐसी नागरिकों ने मांग की है.