Published On : Tue, Nov 23rd, 2021

मनपा चुनाव में लगेगा 10 करोड़ से अधिक का खर्च

नागपूर : अगले वर्ष फरवरी में मनपा Nagpur Municipal Corporation Election 2022 के चुनाव होने की संभावना है इसलिए मनपा प्रशासन की तैयारी शुरू हो गई है। अभी वार्ड की रूपरेखा पर काम चल रहा है। इसी तर्ज पर मनपा ने खर्च की समीक्षा शुरू की। आगामी नगर निकाय चुनावों पर 10 करोड़ खर्च होने की उम्मीद है।

पिछले मनपा चुनाव 2017 में साढ़े सात करोड़ खर्च किए गए थे। प्रति मतदाता 36 रुपये खर्च किए गए। पिछले पांच साल में महंगाई बढ़ी है और कर्मचारियों और अधिकारियों पर सातवां वेतन लगाया गया है. इसलिए फरवरी में होने वाले चुनाव का खर्चा भी बढ़ जाएगा। नगर निगम ने बजट में चुनाव का प्रावधान किया है.

पिछले पांच वर्षों की तुलना में स्टेशनरी, पेन, वाहन किराये, पेट्रोल और डीजल की कीमतों में तेजी से वृद्धि हुई है। इसके अलावा सातवां वेतन चुनाव में नियुक्त होने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को दिया गया। इसलिए इस साल के चुनाव में नियुक्त अधिकारियों और कर्मचारियों के भत्ते में भी इजाफा होगा। विभागीय सूत्रों ने बताया कि इसके परिणामस्वरूप फरवरी-मार्च में होने वाले नगर निगम के चुनावों पर करीब 10 करोड़ रुपये खर्च होंगे।इस साल, प्रति मतदाता लागत 45 रुपये प्रति परिवार तक जाने की उम्मीद है। गौरतलब है कि पिछले चुनाव में एनएमसी ने 7.5 करोड़ रुपये खर्च किए थे। यह लागत राज्य के अन्य नगर निगमों की तुलना में सबसे कम थी।

महीने के अंत तक प्रभाग का कच्चा प्लान

30 नवंबर तक प्रभागों का संभावित प्लान बनाकर राज्य चुनाव आयोग को भेजा जाएगा. नगर रचना और सामान्य प्रशासन विभाग के सूत्रों के अनुसार फिलहाल वार्ड के रफ प्लान पर काम चल रहा है और इसे 27 नवंबर तक पूरा कर लिया जाएगा.


चुनाव आगे बढ़ सकता हैं, अप्रैल या अगस्त बाद

यह कड़वा सत्य है कि BMC के चुनाव के साथ ही मनपा का चुनाव होने वाला है। BMC में शिवसेना का बोलबाला है।उधर मुख्यमंत्री का तबियत खराब है,और 2 से 6 माह सुधार में लग सकता है। जब तक मुख्यमंत्री पूर्णतः स्वास्थ्य ठीक नहीं हो जाता,तब तक BMC का चुनाव टलना तय हैं।इस चक्कर में नागपुर मनपा का चुनाव भी देरी से होने की अंदेशा जताई जा रही हैं।