| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sat, Oct 10th, 2020

    नागपुर मेट्रो रेल: ऐसे होगी डबल डेकर पर यातायात व्यवस्था

    नागपुर- वर्धा मार्ग पर डबल डेकर का निर्माण कार्य महा मेट्रो कि ओर से किया जा रहा है. तकनीकी लहजे से बेहद चुनौती पूर्ण मनीष नगर आरओबी (रेल ओवर ब्रिज) बो-स्ट्रिंग गर्डर का कार्य हाल ही में महा मेट्रोने पूर्ण किया है और शेष काम फिलहाल जारी है. राष्ट्रीय महामार्ग प्राधिकरण के डिपॉझिट काम के अंतर्गत यह काम किया जा रहा है.

    कुल ३.१४ कि.मी. लंबाई यह पुलीया निर्माण के साथ साथ मनीष नगर रेलवे क्रॉसिंग का पर्याय निर्माण करने कि मांग यहा रहनेवाले ने कि थी ! जल्द ही आरओबी का बचा हुआ काम पुरा होने पर यह रास्ता आम जनता के लिये खुला कर दिया जाएगा !

    महा मेट्रो द्वारा निर्माण किये गये आरओबी और आरयुबी (रेल अंडर ब्रिज) के माध्यम से दोनो और का यातायात संभव है और उसके अनुसार प्रावधान किया गया है ! प्राथमिक जाच के लिये दोनो मार्ग एकांकि रहेंगे ! लेकिन यह स्थायी स्वरूप कि योजना नही है, आवश्यकता अनुसार परिवर्तन कर मार्ग दोनो और से यातायात के लिये खुला किया जा सकता है ! इसी तरह वर्धा मार्ग पर मनीष नगर आरयुबी सोमलवाडा से मनीष नगर कि दिशा में खुला किया जायेगा !

    *फिलहाल आरओबी व आरयुबी का ऐसा होगा उपयोग:*

    • मनीष नगर से वर्धा रोड तक पहुचने के लिये प्रथम चरण में जाच के लिये मार्ग एक ओर से खुला किया जाएगा.
    • मनीष नगर से विमान तल कि ओर जाने वाले आरओबी से बाई ओर मुड़कर सीधे जायेंगे.
    • मनीष नगर से सीताबर्डी कि ओर जानेवाले वाहन आरओबी से बाई ओर मुड़कर साधे फ्लाई ओवर के अंतिम छोर पर उतरकर आगे प्राईड चौक से यू टर्न लेकर वापस उडान पूल या नीचे कि सडक से सीताबर्डी कि ओर जा सकते है.
    • वर्धा रोड कि ओर से आने वाले तथा मनीष नगर कि ओर जानेवाले वाहन सीधे रास्ते से जाते हुए मनीष नगर कि दिशा की ओर दाहिनी ओर मुड़कर आरयुबी से मनीष नगर की ओर जा सकेंगे .
    • छत्रपती चौक से आने वाले वाहन मनीष नगर की ओर जानेवाले बाई ओर मुड़कर आरयूबी से अपने गंतव्य स्थान पर जा सकेंगे.

    रेलवे क्रॉसिंग को बंद करने या पर्यायी आरयुबी बनाने का कार्य भारतीय रेलवे द्वारा किया जाता है. मनीष नगर रेलवे क्रॉसिंग पर नये आरयुबी का निर्माण भारतीय रेल द्वारा किया जायेगा, इसका मास्टर प्लान भी तैयार किया गया है. भविष्य में नया आरयुबी व सोमलवाडा में बनने वाला आरयूबी यह दोनो मार्ग देखने को मिलेंगे. भारतीय रेल द्वारा यह प्रस्तावित आरयुबी का निर्माण होने पर दोनो आरयूबी व आरओबी से यातायात संबंधी बातो का विचार कर यातायात कैसा रहेगा इस संबंध में निर्णय लिया जाएगा. फिलहाल स्थिती में दोनो आरयुबी और आरओबी यदी एकांकी यातायात व्यवस्था प्रस्तावित होने पर भी भविष्य में भारतीय रेल द्वारा सोमलवाडा क्रॉसिंग का निर्माण कार्य पूर्ण होने पर यातायात का प्रवाह कैसा किया आजा सकता है इस संबंध में सभी पहलुओं पर विचार कर निर्णय लिया जाएगा.

    मनीष नगर आरओबी कि विशेषताये:

    • महाराष्ट्र मे बौस्ट्रिंग स्टील गर्डर तकनीक से निर्माण होने वाला पहला पुल
    • आरओबी कि लंबाई ६३.४८ मी. व चौडाई १२.६ मी.
    • स्टील गर्डर कि क्षमता ३६० टन
    • दोनो ओर से राहगिरो के लिये १.५ मी.फुटपाथ कि व्यवस्था

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145