Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Aug 14th, 2018
    nagpur samachar | By Nagpur Today Nagpur News

    नागपुर-इंदौर-नागपुर एक्सप्रेस को प्रतिदिन चलाएं

    नागपुर: शहर से इंदौर कनेक्टिविटी की बहुत ही सीमित ट्रेनें हैं. ऐसे में सप्ताह में केवल 2 दिन चलाई जा रही ट्रेन 12913/14 नागपुर-इंदौर-नागपुर एक्सप्रेस को प्रतिदिन कर देना चाहिए. यह सुझाव राज्यसभा सांसद विकास महात्मे ने सोमवार को मध्य रेल जोन के महाप्रबंधक डीके शर्मा के साथ हुई वार्षिक बैठक में दिया. उन्होंने कहा कि उक्त ट्रेन से आय के मामले में रेलवे और सुविधा के मामले में यात्रियों को निराश नहीं किया जाना चाहिए. सभी 7 दिन चलने के कारण नागपुर और इंदौर के बीच रेलयात्रियों के लिए काफी सुविधा और फायदेमंद साबित होगी.

    वहीं, मध्य रेल के तहत आने वाले संसदीय क्षेत्र से भी अन्य सांसदों ने बैठक में हिस्सा लिया. वर्धा के सांसद रामदास तड़स और बैतूल की सांसद ज्योति धुर्वे ने एक स्वर में कहा कि विदिशा या भोपाल से नागपुर तक नयी इंटरसिटी एक्सप्रेस, ट्रेन 22111/22112 भुसावल-नागपुर-भुसावल दादाधाम साप्ताहिक एक्सप्रेस को प्रतिदिन चलाया जाना चाहिए.

    शुरू हो नागपुर-औरंगाबाद एक्सप्रेस
    सांसदों ने कहा कि साथ ही नागपुर और मुंबई के बीच चलने वाली सभी ट्रेनों को बूटीबोरी में अल्प ठहराव दिया जाये ताकि एमआईडीसी में कार्यरत कर्मचारियों को आने-जाने में सुविधा हो. वहीं, नागपुर से औरंगाबाद जाने के लिए अधिकांश यात्रियों को केवल बसों पर निर्भर रहना पड़ रहा है. नागपुर से केवल एक या 2 ट्रेनें ही जिनसे औरंगाबाद पहुंचा जा सकता है. ऐसे में मध्य रेल प्रबंधन ने नागपुर-औरंगाबाद एक्सप्रेस शुरू करने की कोशिश करनी चाहिए. तड़स ने कहा कि 12906/12905 हावड़ा-पोरबंदर-हावड़ा एक्सप्रेस को वर्धा और 12113/12114 नागपुर-पुणे-नागपुर गरीबरथ एक्सप्रेस को धामनगांव में स्टापेज देना ही चाहिए.

    गिनाई मध्य रेल की उपलब्धियां
    वहीं, महाप्रबंधक शर्मा ने सांसदों को मध्य रेल द्वारा पिछले वर्ष हासिल की गई उपलब्धियों की जानकारी दी. वहीं, विकास कार्यों से अवगत भी कराया. उन्होंने कहा कि नागपुर प्लेटफार्म 2 पर वाशेबल एप्रान, पूरे स्टेशन पर 12 वाटर वेंडिंग मशीनों के अलावा पश्चिमी भाग के प्रवेश द्वार को बेहतरीन विकास किया गया है. यात्री सुविधाओं के मद्देनजर नागपुर स्टेशन परिसर से ही प्राइवेट कैब की उपलब्धता सुनिश्चित की गई.

    अजनी स्टेशन 28 महिला कर्मचारियों द्वारा ही संचालित किया जाता है. उन्होंने बताया कि भारतीय रेल द्वारा स्टेशनों के सौंदर्यीकरण स्पर्धा में मध्य रेल, नागपुर मंडल के चंद्रपुर एवं बल्लारशाह स्टेशन को सबसे सुंदर स्टेशन का प्रथम पुरस्कार प्राप्त हुआ. महिला यात्रियों के लिए नागपुर तथा अजनी रेलवे स्टेशन पर महिला प्रतीक्षालय में सेनेटरी नेपकिन वेंडिंग मशीन एवं सेनेटरी नेपकिन डिस्पोजल मशीन लगाई गई.

    इस दौरान सांसद आनंदराव अडसूल, संजय धोत्रे तथा प्रतापराव जाधव भी पहुंचे थे. इनके अलावा नागपुर रेल मंडल के डीआरएम सोमेश कुमार, भुसावल के डीआरएम रामकरन यादव, प्रधान मुख्य वाणिज्य प्रबन्धक शैलेंद्र कुमार, प्रधान मुख्य परिचालन प्रबन्धक डीके सिंह, प्रधान मुख्य अभियंता एसके अग्रवाल, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी (निर्माण) संजयकुमार तिवारी, दिनेश वशिष्ठ, साकेतकुमार मिश्रा, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुनील उदासी, अपर मंडल रेल प्रबंधक त्रिलोक कोठारी तथा एनके भंडारी समेत सभी वरिष्ठ रेल अधिकारियों की उपस्थिति रही.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145