Published On : Fri, Feb 27th, 2015

कोराडी : मालू इंडस्ट्रीज के मालिक के घर के सामने करेंगे आंदोलन – सोरते


शनिवार को निकलेगा मोर्चा

Mallo Industries
कोराडी (नागपुर)। वड़ोदा- मौदा मार्ग पर स्थित मुरली एग्रो इंडस्ट्रीज के कान्ट्रैक्टर कामगार व कार्यालयीन कर्मचारीयों पर भूखों मरने की नौबत आ पड़ी है. कामगारों को विगत सात महीनों से वेतन नहीं दिया गया है. पी.एफ. कटता है, लेकिन पी.एफ. की रक्कम कामगारों को नहीं मिलती. वहीं कामगारों को 2 वर्षों से ओवर टाईम की रक्कम नहीं दी जा रही है. कामगारों ने कंपनी के खिलाफ रोष व्यक्त किया है. इस वजह से मुरली एग्रो के मालिक मालूसेठ के वर्धमान नगर स्थित निवासस्थान पर कामगारों का मोर्चा निकाला जा रहा है. यह मोर्चा शनिवार सुबह 10 बजे निकाला जाएगा. ऐसा इशारा भाजपा नेता तथा कामगार नेता मोरेश्वर सोरते ने किया है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार कामठी विधानसभा क्षेत्र के कुल 200 कान्ट्रैक्टर कामगार व कुछ कार्यालयीन कर्मचारियों को विगत कुछ महीनों से वेतन नहीं मिल रहा है. जोखिमभरे स्थान पर काम कर रहे मजदूरों को गागल्स, सेफ्टी शूज, हैंडग्लोवस नहीं मिलते. इस वजह से अनेक कामगार दुर्घटना में अपाहिज होते है. कान्ट्रैक्टर कामगारों को वेतन कायदे के अनुसार नहीं मिलता, वेतन की रसीद नहीं मिलती, वहीं कंपनी प्रशासन के अधिकारी गालीगलौच कर व्यवहार करते है. अब तक कामगार व कंपनी में करीब 100 बैठकें हुई है. इसमें से 6 बैठकों में कामठी विधानसभा क्षेत्र के विधायक, ऊर्जा मंत्री तथा पालक मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले उपस्थित थे. पालकमंत्री ने कुटीर क्र.5 में कामगारों की व कंपनी प्रशासन कामगार आयुक्त, पुलिस प्रशासन के अधिकारी इस बैठक में उपस्थित थे. पालकमंत्री ने कंपनी व कामगारों में समझौता किया. लेकिन मुरली एग्रो के अधिकारी व मालक कामगारों को अग्रीमेंट के अनुसार वेतन देने के लिए तैयार नहीं है.

Mallo Industries  (1)
मुरली एग्रो कंपनी में कंपनी प्रशासन की दादागिरी चलती रहती है. यहां स्थानीय बेरोजगारों से ढंग से व्यवहार नहीं होता. मौदा तालुका के राहाड़ी, इसापुर, बाबदेव, नवेगांव, सावरगांव, खड़का, गांगनेर, कुंभारी, माथनी, मौदा शहर, तारसा वहीं कामठी तालुका के गुमथला, वड़ोदा, भुगाव, सेलु, झरप, बिडगाव, आवंडी भोवरी, आजनी-महालगांव के बेरोजगार इस कंपनी में काम करते है. जहां कामगारों की मेहनत से कंपनी का उत्पादन बढ़ता है. उनसे सम्मान जनक व्यवहार करने तथा वेतन देने में क्या हर्ज है? ऐसा प्रश्न मोरेश्वर सोरते ने किया है.

शनिवार 28 फ़रवरी को सुबह 10:00 बजे मालू के निवासस्थान पर मोर्चा ले जाने का आयोजन किया गया है. इस मोर्चे में ज्यादा से ज्यादा कामगारों ने उपस्थित रहकर सहयोग करने का आवाहन मोरेश्वर सोरते ने किया है.