Published On : Fri, Nov 29th, 2019

मंदिर समाज को जोड़ने का काम करते हैं: भागवत

नागपुर: राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने बृहस्पतिवार को कहा कि पुराने समय में मंदिर सामाजिक जीवन और लोगों को एकजुट करने का केंद्र हुआ करते था।

शहर में एक राम मंदिर के सौ साल पूरे होने के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि इस दौर में भी मंदिर को उसी भावना के साथ बनाया जाना चाहिए।

Advertisement

उन्होंने कहा, ‘‘ धर्म का मतलब पूजा नहीं है बल्कि यह समाज को एकजुट करने और एक साथ लाने का माध्यम है।”

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement