Published On : Tue, Feb 26th, 2019

21 मिनट, 12 मिराज, 1000 KG बम और 300 आतंकी ढेर!

Advertisement

पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग कर रहे भारत के लोगों को देश की वायुसेना ने बड़ा तोहफा दिया. दरअसल, भारत ने मंगलवार तड़के पाकिस्तान के भीतर हवाई हमले कर कई आतंकवादी शिविरों को निशाना बनाया है. इस कार्रवाई में 300 से ज्यादा आतंकियों के ढेर होने की संभावना है. इसे भारत का दूसरा सर्जिकल स्ट्राइक कहा जा रहा है. इससे पहले 2016 में उड़ी हमले के बाद भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक कर पाकिस्तान को करारी चोट दी थी. आइए जानते हैं भारतीय वायुसेना के इस ऑपरेशन के बारे में.

21 मिनट का ऑपरेशन
भारतीय वायुसेना का यह ऑपरेशन सिर्फ 21 मिनट का था. इस 21 मिनट में भारतीय 12 मिराज फाइटर ने पाकिस्तान के अलग-अलग हिस्सों में हमला किया.इस हमले में 300 से ज्यादा आतंकियों के ढेर होने की संभावना है. भारत सरकार की ओर से इस एयरस्ट्राइक को कंफर्म किया गया है.

Advertisement
Advertisement

विदेश सचिव की प्रेस कॉन्फ्रेंस में विजय गोखले ने कहा कि आज सुबह बालाकोट में एयर स्ट्राइक की है जिसमें जैश के कमांडर समेत कई आतंकियों को ढेर किया गया है. यह एक असैन्य कार्रवाई थी जिसमें आतंकी संगठनों को निशाना बनाया गया है. गोखले ने बताया कि 20 साल से पाकिस्तान आतंकी साजिश रच रहा था और आतंकी संगठनों पर आजतक कोई कार्रवाई नहीं की गई थी.

इससे पहले पाकिस्तान के सेना की मीडिया शाखा अंतर-सेवा जन संपर्क (आईएसपीआर) के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर भारतीय कार्रवाई को कंफर्म कर दिया. हालांकि भारत से नुकसान के दावे को खारिज कर दिया. गफूर ने ट्वीट किया, ‘‘भारतीय वायुसेना के विमान मुजफराबाद सेक्टर से घुसे. पाकिस्तानी वायुसेना की ओर से समय पर और प्रभावी जवाब मिलने के बाद वह जल्दीबाजी में अपने बम गिरा कर बालाकोट के करीब से बाहर निकल गए. जानमाल को कोई नुकसान नहीं हुआ है.’’

इस हमले के बाद बॉर्डर पर चौकसी बढ़ा दी गई है. जानकारी के मुताबिक BSF को भारत पाकिस्तान की सीमा पर अलर्ट रहने को कहा गया है. वहीं अंतरराष्ट्रीय सीमा पर भी बीएसएफ तैनात है. भारत के द्वारा PoK में की गई है इस कार्रवाई के बाद से ही बॉर्डर के पास के इलाकों में अलर्ट जारी है.

बता दें कि बीते 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमले के बाद दोनों देशों के बीच तनाव का माहौल है. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगातार पाकिस्तान को जवाब देने के संकेत दिए थे.

वहीं भारत की ओर से पाकिस्तान से व्यापार के मोर्चे पर भी सख्ती दिखाई जा रही है.भारत ने हाल ही में मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छिन लिया है जबकि आयात शुल्क 200 फीसदी बढ़ा दिया गया है. इसके बाद से पाकिस्तान परेशान नजर आ रहा है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement