Published On : Tue, Nov 7th, 2017

मेट्रो की वजह से नहीं हटेगा क्रेसी कैस्टल

Dr Brijseh Dixit
नागपुर: माझी मेट्रो परियोजना के लिए अंबाझरी तालाब के सामने की जगह को लेकर एनएमआरसीएल की तरफ से सफाई दी गयी है। मंगलवार को पत्रकारों से बात करते हुए मेट्रो प्रमुख बृजेश दीक्षित ने साफ़ किया की उन्हें तालाब के सामने क्रेसी कैस्टल की मात्र एक तिहाई जगह की आवश्यकता है। वर्तमान में जहाँ पार्किंग है वह जगह भी अगर उपलब्ध हो जाये तो काफ़ी होगा। इस जगह को लेकर बीते कुछ वक्त से भ्रम की स्थिति बनी हुई है लेकिन दीक्षित का कहना है कि सम्बंधित विभागों से मेट्रो का संपर्क लगातार जारी है और जल्द ही मामले को सुलझाकर निपटारा कर लिया जायेगा।

एमडी का कहना था की क्रेसी कैस्टल के रूप में शहर वासियों के लिए मनोरंजन की बेहतर जगह उपलब्ध है वह चाहते है यह यथास्थिति में रहे। आने वाले दिनों में मेट्रो में सफर कर जनता क्रेसी कैस्टल पहुँचेगी। खापरी में स्थित मेट्रो के डीपो में बातचीत के दौरान उन्होंने बताया की चाइना रेल कॉर्पोरेशन द्वारा तैयार किये जाने वाले मेट्रो के डिब्बे जून 2018 तक नागपुर पहुँच जायेगे। नागपुर मेट्रो के अधिकारी और कर्मचारियों की एक टीम चाइना में ही मौजूद है और डिब्बों की डिजाईन से लेकर उनके निर्माणकार्य पर लगातार नजर रखे हुए है।

मुख्य स्टेशन के पूर्वी द्वार की तरफ माझी मेट्रो करेगी विकास कार्य
नागपुर मेट्रो परियोजना के साथ शहर के भीतर भारतीय रेल तीन जगह से कनेक्ट होने की जानकारी माझी मेट्रो प्रमुख ने दी। संत्रा मार्केट स्थित मुख्य स्टेशन के साथ अजनी और खापरी में विशेष कॉरिडोर के साथ मेट्रो और भारतीय रेल को कनेक्ट किया जायेगा। मुख्य स्टेशन के सामने मौजूद स्टेशन और उसके पूर्वी द्वारा के तरफ की जगह के विकास का जिम्मा मेट्रो के पास ही है। यहाँ बनने वाले स्टेशन से सीधे यात्री रेल्वे स्टेशन में उतरेंगे।