Published On : Mon, May 13th, 2019

शिक्षण अधिकारी के साथ आरटीई एक्शन कमेटी की बैठक में एनआईसी, एडमिशन मैसेज जैसी समस्याओं पर हुई बात

नागपुर: प्राथमिक शिक्षा अधिकारी वंजारी के कक्ष में 10 मई को सू गई एक बैठक में आरटीई एक्शन कमिटी को पत्र देकर आमंत्रित किया था. प्रवेश में होने वाले एनआईसी व भेजे गए मैसेज व अन्य मामलों के संदर्भ में सभा में ये मुद्दे प्रमुखता से उठाया गया. आरटीई गूगल मैपिंग का अधिकृत स्वीकृत कोई ऐप नहीं है. इस इस पर शिक्षा अधिकारी ने ज्ञापन देने को कहा है. मिले हुए लॉटरी मैसेज के संदर्भ में इन पालकों को दो दिन का समय दिया जाएगा. मनोज स्कूल द्वारा एडमिट कार्ड नकारने पर उसकी मान्यता निकालने का आदेश दिया गया है. विशेष बालक का एडमिट कार्ड शाला द्वारा अस्वीकार किया गया. इस संदर्भ में उस छात्र को एडमिशन दिलाया जाएगा. एनआईसी की गलती के कारण कई पालकों को एडमिशन करने की आखरी तारीख के एक दिन पहले एसएमएस मिलने के कारण भी कई पालक परेशान हो रहे हैं.

इस दौरान चिंतामन वंजारी (शिक्षण अधिकारी प्राथमिक) शाहिद शरीफ़ चेयरमैन (आरटीई एक्शन कमेटी) विजय कोकोड़े (सेक्शन ऑफ़िसर) जोशना हरडे, प्रेमचंद राउत मौजूद थे. कल अंतिम दिन यूआरसी -1 की टीम ने अंतिम एडमिट कार्ड संदीपनी स्कूल के पालक को दिया जिसमें सभी कार्यालय सदस्य शामिल थे.