Published On : Tue, May 25th, 2021

म्युकरमायकोसिस और कोरोना की तीसरी लहर पर हुई समीक्षा बैठक

नागपुर: विश्व स्वास्थ्य संगठन और विशेषज्ञों की चेतावनी के मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर में बच्चों के संक्रमित होने की आशंका ज़्यादा है. इसी को ध्यान में रखते हुए नागपुर नगर निगम तैयारी शुरू करनी चाहिए. एक ही स्थान पर 200 बेड व्यवस्था करने के लिए एक आदर्श बाल चिकित्सालय की स्थापना की जानी चाहिए. विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि राष्ट्रीय कैंसर संस्थान के माध्यम से सभी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जाएगी. उन्होंने कोविड को मात दिए हुए नागरिकों की स्क्रीनिंग करने और फोन करके उनके लक्षणों के बारे में जानकारी हासिल करने की सूचना दी.

जो मरीज हाल ही में कोविड-19 से ठीक हुए हैं, वे वर्तमान में ब्लैक फंगस बीमारी से पीड़ित हैं. साथ ही कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए क्या तैयारी की गई है, इसकी समीक्षा के लिए मंगलवार को महापौर दयाशंकर तिवारी की अध्यक्षता में छत्रपति शिवाजी महाराज प्रशासनिक भवन में कोरोना वार रूम में ऑनलाइन बैठक हुई. इस दौरान नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस निर्देश दे रहे थे. इस अवसर पर महापौर दयाशंकर तिवारी, नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस के साथ साथ पूर्व महापौर तथा विधायक प्रवीण दटके, स्थायी समिति के सभापती प्रकाश भोयर, सत्तापक्ष नेता अविनाश ठाकरे, विरोधी पक्ष नेता तानाजी वनवे, आयुक्त राधाकृष्णन बी., स्थायी समिति के पूर्व सभापति विजय झलके, अतिरिक्त आयुक्त जलज शर्मा, राम जोशी, संजय निपाणे, निगम सचिव डॉ. रंजना लाडे, चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. संजय चिलकर, अतिरिक्त सहायक चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. विजय जोशी आदि उपस्थित थे.