Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sat, Dec 23rd, 2017
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    दीनदयाल उपाध्याय विभागीय केंद्र निर्माण के लिए मॉयल में हुई बैठक


    नागपुर: काटोल मार्ग स्थित मॉयल मुख्यालय में गत दिनों भारतीय खेल प्राधिकरण अंतर्गत अंतर्राष्ट्रीय स्तर के वाठोडा स्थित दीनदयाल उपाध्याय विभागीय केंद्र निर्माण के लिए महत्वपूर्ण बैठक संपन्न हुई. बैठक में प्रमुखता से उपस्थित महापौर ने सम्बोधित करते हुए कहा कि उक्त प्रकल्प केंद्रीय मंत्री के नेतृत्व व पहल पर निर्माण किया जाना है. इस केंद्र का विस्तार १४८ एकड़ जगह पर ६०० करोड़ रुपए से किया जाएगा.इसके निर्माण में मॉयल की महत्वपूर्ण भूमिका हो, इसलिए यह बैठक मॉयल में हो रही है. इसे मॉयल के ‘सीएसआर’ निधि से निर्माण करने का उद्देश्य है. आगामी ८ जनवरी को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की उपस्थिति में उक्त प्रस्ताव का ‘प्रेजेंटशन’ किया जाएगा.

    इस बैठक में श्रीमती नंदा जिचकार (महापौर), अश्विन मुदगल (आयुक्त, मनपा), रवींद्र कुंभारे (अतिरिक्त आयुक्त, मनपा), मुकुंद चौधरी (अध्यक्ष सह प्रबंधक, मॉयल), दीपांकर सोम (निदेशक, उत्पादन व योजना,मॉयल), राकेश तुमाने (निदेशक, फायनान्स,मॉयल), व्ही. एस. घुसे (सहायक अभियंता, सार्वजनिक बांधकाम विभाग), राजेश कराडे (सहायक आयुक्त, नेहरूनगर जोन, मनपा), सचिन रक्षमवार (उपअभियंता, नेहरूनगर जोन, मनपा) आदि उपस्थित थे.

    महापौर ने आगे जानकारी दी कि इस केंद्र निर्माण में मॉयल के सहयोग के एवज में इससे सभी खेल के साथ कॉन्फ्रेंस के लिए आरक्षित रहेगी.
    मनपायुक्त आश्विन मुद्गल ने जानकारी दी कि उक्त प्रकल्प का हाल ही में दिल्ली में गडकरी व खेलमंत्री राजवर्धन राठोड की उपस्थिति में बैठक हुई. बैठक में महापौर जिचकर व नेहरू युवा केंद्र प्रमुख रानी द्विवेदी उपस्थित थीं. इसी तर्ज पर नागपुर में भी बैठक हुई. उक्त प्रकल्प की रिपोर्ट तैयार किया जा चूकी है. पहले चरण के लिए ५० करोड़ में से ३० करोड़ की मंजूरी मिल चुकी है. यह केंद्र देश के सबसे बड़े खेल संकुल के रूप में जाना जाएगा. यहां ओलंपिक दर्जे के खेल आयोजन किए जाएंगे. ‘खेलो इंडिया’ अंतर्गत केंद्र में ‘टर्फ’ का निर्माण किया जाएगा. उक्त केंद्र का निर्माणकार्य सार्वजानिक लोकनिर्माण विभाग की देखरेख में संपन्न होगा.

    मनपायुक्त ने मॉइल के वित्त निदेशक राकेश तुमाने के सवाल के जवाब में जानकारी दी कि ६०० करोड़ का खर्च सिर्फ केंद्र के निर्माणकार्य के लिए किया जाएगा और खेल संबंधी अन्य उपक्रम खेल मंत्रालय के मार्फ़त आयोजित किए जाएंगे.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145