Published On : Fri, Apr 5th, 2019

भाजपा के चौकीदार कितना भी जोर लगाएं, इस बार वे सत्ता में नहीं आएंगे : मायावती

चुनावी सभा में पहुंची बसपा प्रमुख मायावती ने भाजपा और कांग्रेस दोनों पर साधा निशाना

नागपुर: देश में आजादी के बाद से ही कांग्रेस की ज्यादातर सरकार रही है, बीजेपी और अन्य पार्टियों की भी रही है. लेकिन कांग्रेस की गलत नीतियों और कार्यप्रणाली को लेकर इन्हे सत्ता से बाहर जाना पड़ा. आरएसएसवादी और साम्प्रयदायिकता और जातिवादी मानसिकता के कारण इस बार भाजपा की सरकार नहीं आएगी. इस बार उनकी नाटकबाजी और जुमले बाजी काम नहीं आएगी.


सभी भाजपा के चौकीदार कितना भी जोर लगाए इस बार वे सत्ता में नहीं आएंगे. देश के लोगों, महिलाओ, सरकारी कर्मचारियों, दलितों को सरकार ने जो भी वादें किए थे. इनमें से एक भी वादा पूरा नहीं किया गया. पिछली बार की तरह इस बार भी चुनावी हथकंडे अपनाएं जा रहे है. यह तीखा हमला बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने सभा को संभोदित करते हुए भाजपा और कांग्रेस दोनों पार्टियों पर किया.

शुक्रवार को कस्तूरचंद पार्क में आयोजित इस चुनावी सभा में महाराष्ट्र के सभी लोकसभा उमेदवार नागपुर के मोहम्मद जमाल, भंडारा गोंदिया की डॉ. विजया नंदुरकर, वर्धा के डॉ. शैलेश अग्रवाल समेत बहुजन समाज पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुरेश साखरे, प्रदेशप्रभारी डॉ. ना.तू.खंडारे, अशोक सिदार्थ, समाजवादी पार्टी के नेता अबू आजमी, कृष्णा बेले समेत अन्य नेता और पदाधिकारी समेत बड़ी तादाद में कार्यकर्ता मौजूद थे.

इस दौरान मायावती ने कांग्रेस और भाजपा दोनों पर निशाना साधा. उन्होंने कहा की भाजपा चुनाव में अपना प्रचार पर करोडो रूपया खर्च कर रही है. लेकिन यह पैसा उन्होंने गरीबों के हितों में नहीं लगाया. बहुजनों पर लगातार अत्याचार बढे है. महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार और केंद्र में भी सरकार होने के बावजूद यहाँ के किसान बदहाल है.

सरकार ने आरक्षण का कोटा अब तक पूरा नहीं किया है. कांग्रेस और भाजपा की मिलिभगत के कारण आरक्षण को प्रभावहीन बनाया गया है. इससे ओबीसी के लोग भी प्रभावित हो रहे है. कांग्रेस और भाजपा मंडल कमीशन लागू करने के खिलाफ थी.

वी.पी. सिंग ने यह लागू किया था. उन्होंने कहा कि सरकार सीबीआई और अन्य संस्थाओ का दुरूपयोग कर रही है. अगर केंद्र में बहुजन समाज पार्टी की सरकार आती है तो बहुजन हिताय बहुजन सुखाय के तहत काम किया जाएगा . उन्होंने कहा की सबका साथ सबका विकास महज एक जुमला था. उन्होंने लोगों से अपील की है कि केंद्र में बीएसपी की सरकार लाने के लिए महाराष्ट्र में उमेदवारो को जिताएं.

इस समय अबू आजमी ने भी सरकार पर हमला बोला. इस सभा में बड़ी तादाद में लोग पहुंचे थे. नागपुर के उमेदवार जमाल, डॉ. विजया नंदुरकर, वर्धा के डॉ. शैलेश अग्रवाल ने भी सरकार की निंदा की.