Published On : Fri, Jun 1st, 2018

मेट्रो परियोजना के चारो रिच मे स्थापित किया जायेगा पॉकेट ट्रैक रहे

Nagpur Metro Coachs

नागपूर: मेट्रो ट्रेन के संचालन के दौरान अचानक तकनीकी खराबी के कारन यातायात मे किसी भी प्रकार का व्यवधान न हो इस उद्देश से महा मेट्रो की ओरसे चारो दिशाओ मे पॉकेट ट्रॅकका निर्माण किया जा रहा है। उल्लेखनीय है की नागपूर मेट्रो परियोजना के अंतर्गत अप और डाउन दो मुख्य रेल मार्ग है। मेट्रो ट्रेन चलते चलते अचानक यदि तकनिकी खराबी आजाए तो रॅक को तुरंत हटाकर उसे पॉकेट ट्रॅकपर स्थानांतरित किया जा सके और मेट्रो यातायात बाधित न हो इसी उद्देश से १०० मीटर लंबाई का पॉकेट ट्रॅक बनाया जा रहा है।

सामान्य तौर पर मेट्रो पटरी के लिये सेगमेंटल गर्डर के माध्यम से बिछाई जाती है। लेकिन पॉकेट ट्रॅकके लिये आय गर्डरका उपयोग किया जाता है। अप और डाउन मार्गपर अचानक खराबी आने से बंद मेट्रो गाडी को बॅटरी के माध्यम से संचालित होनेवाले बुलंद पॉवर इंजिनके सहायता से खिचकर पॉकेट ट्रॅकपर लाने की व्यवस्था मेट्रो ने की है। इसी बुलंद के माध्यम से सुधार कार्य करने के लिये मेट्रो रॅक को डिपो तक पहुचाया जायेगा।

१०० मीटर लंबे पॉकेट ट्रॅक चारो रिच मे बनाए जा रहे है। वर्धा मार्ग के रिच-१ अंतर्गत रहाटे कॉलोनी मेट्रो स्टेशनके पास पॉकेट ट्रॅक बनाया जा रहा है। इसी तरह लोकमान्य नगर मेट्रो स्टेशन से लेकर मुंजे चौक मेट्रो स्टेशन तकके रिच-३ मे रचना मेट्रो स्टेशनके समीप पॉकेट ट्रॅक निर्माणाधीन है। इसके अलावा रिच-२ और रिच-४ मे भी शिग्रही पॉकेट ट्रॅकका निर्माण किया जायेगा। जिससे तकनीकी खराबी के चलते मेट्रो ट्रेन का यातायात सुचारू रुपसे कार्यान्वित हो सके।