Published On : Mon, Sep 13th, 2021

ठग की गोली मारकर हत्या

-मेहकर में मिला शव

नागपुर: शहर में कई लोगों को ठगने वाले एक अभियुक्त की गोली मारकर हत्या कर दी गई। उसका शव मेहकर इलाके में मिला है। शरीर पर गोली लगने के दो निशान मिले हैं। माना जा रहा है कि हत्या पैसों के विवाद को लेकर हुआ है। वाशिम पुलिस ने इस बारे में नागपुर पुलिस को सूचित किया है। मृतक का नाम माधव यशवंत पवार है। माधव तुलसीबाग इलाके में रहता था।

जेल जाने के बाद उसकी पत्नी लकड़गंज थाने में रहने लगी। पता चला है कि माधव पिछले कुछ महीनों से खरबी इलाके में रह रहा था। रविवार सुबह स्थानीय लोगों ने मेहकर मार्ग स्थित पांगरी कुटे गांव में एक खेत में माधव का शव देखा। लोगों ने तुरंत घटना की सूचना पुलिस को दी। महकर पुलिस मौके पर पहुंची। शुरुआत में तो मृतक की पहचान स्थापित नहीं हो पाई लेकिन बारीकी से जांच के दौरान शव के पास उसका आधार कार्ड मिला।

मृतक का नाम माधव पवार और वह तुलसीबाग नागपुर का निवासी था। उसका फ़ोन नंबर और तस्वीर नागपुर पुलिस को भेज दी गई। पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार माधव को पहले धोखाधड़ी के एक मामले में गिरफ्तार किया गया था। इसके चलते पुलिस ने उसकी शिनाख्त कर ली है।

पुलिस दल तुरंत तुलसीबाग स्थित उसके घर पहुंची। वहीं से पता चला कि माधव 5 साल पहले घर से चला गया था। उसकी शिनाख्त होते ही मेहकर पुलिस भी नागपुर के लिए रवाना हो गई। पता चला है कि पुलिस 2 दस्ते रात करीब 11.30 बजे नागपुर पहुंचे। पुलिस माधव के परिवार की तलाश कर रही है। माधव के खिलाफ कोतवाली थाने में भी धोखाधड़ी और एमपीआईडी ​​एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। उसे सेशंस कोर्ट ने छह साल जेल की सजा सुनाई थी। बाद में उसे ज़मानत पर रिहा किया गया था। अनुमान लगाया जा रहा है कि पैसे को लेकर विवाद में उसकी हत्या की गई है।