Published On : Mon, Nov 3rd, 2014

माहुर : प्रेमी युगल की हत्या करने वाला अपराधी माहुर में गिरफ्तार


हत्याकांड के मास्टर माईंड की पुलिस की तलाश जारी

Loving Couples of Mahur case
माहुर (नांदेड)।
श्री क्षेत्र माहुर गड़ के रामगड़ किले में पुसद अभियांत्रिकी विद्यालय के प्रेमीयुगल, उमरखेड़ निवासी छात्र शाहरुख़ और छात्रा पुसद निवासी निलोफर की गला काटकर निर्मम हत्या करनेवाले मुख्य अपराधी रघु डॉन उर्फ़ रघुनाथ पलसकर को माहुर पुलिस थाने के पुलिस निरीक्षक डॉ. अरुण जगताप ने अपने सहयोगी तथा उपविभागीय पुलिस अधिकारी के विशेष दल ने गिरफ्तार किया. 1 नवंबर को देर रात यवतमाल जिले के पारवा पुलिस थाने क्षेत्र के परिसर में जाल बिछाकर कार्रवाई को अंजाम दिया गया.

इस अमानुष और इंसानियत को शर्मसार करनेवाली घटना के अपराधी को नांदेड़ स्थानीय अपराध शाखा अधिकारी और कर्मचारियों बेहद सावधानी से बेड़िया पहनाकर घटना का विदारक सत्य उजागर किया था और हत्या में इस्तमाल की गयी कुल्हाड़ी और चाकू जप्त किया। अपराधी जावेद पेंटर,राजू गाडेकर,देवराव बाबटकर, कृष्णा उर्फ़ मारोती शिंदे को मृतक के मोबाईल के ट्रैकर द्वारा मिले सुराग के बाद गिरफ्तार किया था, मगर इन सुपारी किलरों का मुख्य सुत्रधार भागने में कामयाब हो गया था.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, पुलिस योजना के अनुसार रघु डॉन की बैचेनी से तलाश कर रही थी. 1 नवंबर की देर रात आखिरकार थानेदार तावड़े के सहकार्य से पीआई अरुण जगताप, सहायक थानेदार जगदीश गिरी, हेड कांस्टेबल गेडाम,गावंडे,ख़ामनकर, पेंडोर,गोपनीय शाखा के बंडू जाधव ने ख़ुफ़िया जानकारी के आधार पर शाहरुख़ और निलोफर बेग की हत्या करनेवाले को धर दबोचा. अपराधी रात के अंधेरे में पंगड्डी से ससुराल जा रहा था.  दोहरे हत्याकांड की जाँच कर रहे नांदेड एलसबी के एपीआई शिवाजी डोईफोडे,सहाय्यक सैयद फहीम,जमादार बलिराम दासरे,पिराज गायकवाड़,ज्ञानेश्वर तिड़के टिम ने कड़ी मेहनत कर इस हत्याकांड के राज से पर्दा उठाया.

इसी बीच टिम ने 30 और 31 अक्टूबर को माहुर के और पुसद के दो संशयित व्यक्तियों को अपने कब्जे में लिया जो कथीत तौर पर प्रतिष्ठित माने जाते है. इन्ही के जरिये नए जिंदगी के सपने सजोने वाले प्रेमी छात्रों हत्या की सुपारी देनेवाले मास्टरमाइंड तक पहुचने पुलिस विभाग की कवायद चल रही है. पुलिस सुपारी देने वाले तक पहुचने के लिए गोपनीयता बरती जा रही है.