| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Mar 17th, 2015
    Vidarbha Today | By Nagpur Today Vidarbha Today

    कोंढाली : ओलावृष्टि से खापा-धोतिवाड़ा गांव में नुकसान


    100 प्रतिशत फसलों को नुकसान

    सर्वे करते हुए भेदभाव न करे – विधायक आशीष देशमुख

    Ashish Deshmukh (2)
    कोंढाली (नागपुर)। नागपुर जिले के खापा धोतीवाड़ा गांव समेत अन्य गांव में रविवार 15 मार्च को बारिश और ओलावृष्टि से किसानों के गेंहू,चना, संतरा तथा अन्य फसलों का 100 प्रतिशत नुकसान हुआ है. इस घटना की जानकारी मिलते ही इस क्षेत्र के विधायक डा. आशीष देशमुख ने 16 मार्च को सुबह 8.30 बजे फसलों के नुकसान का निरिक्षण किया. इस क्षेत्र के संतरा उत्पादक किसानों के बगीचों में नींबू से बड़े ओले गिरे. पेड़ के 70 प्रतिशत संतरा निचे गिरे तथा 30 प्रतिशत संतरा पेड़ पर फुट गया. इस क्षेत्र के गेंहू और चने की फसल निचे झुकी थी. तब विधायक आशीष देशमुख ने बताया कि खापा धोतीवाड़ा क्षेत्र के किसानों का 100 प्रतिशत फसल नुकसान हुआ है.

    किसानों में आक्रोश
    ओलावृष्टि से बेहाल हुए किसानों ने विधायक आशीष देशमुख के सामने बताया कि गत चार महीनों में पांच बार प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान से किसान बेहाल हुआ है. जिससे सरकार पंचनामा नही करती. ऐसा किसानों ने अपना रोष व्यक्त किया.

    मै पहले किसान   
    किसानों की दयनीय अवस्था देखकर विधायक आशीष देशमुख ने कहा कि मै सबसे पहले किसान हु. सबसे पहले किसानों ने संघटित होना जरुरी है.

    मंत्री, सांसद, विधायक एक वर्ष का मानधन दे
    शासन किसानों का नही सुनती. शासन के पास पैसे नही है तो मंत्री, सांसद, विधायक एक वर्ष का मानधन दे तथा सरकारी अधिकारी और कर्मचारी एक महीने का वेतन किसानों को अनुदान के रूप में दे. स्थानिय अधिकारियों ने ओलावृष्टि ग्रस्त खेत का निरिक्षण करते हुए किसी भी प्रकार का भेदभाव नही करे ऐसा विधायक देशमुख ने कहां है.

    Ashish Deshmukh (1)
    इस दौरान ओलावृष्टि ग्रस्त खेत का निरिक्षण करते हुए पंचायत समिति के उपसभापति योगेश चापले, पं.स. सदस्य कृष्णा उइके, पूर्व सभापति शेषराव चापले, सरपंच छाया चोखान्द्रे, प्रकाश बरंगे, प्रमोद थारपुरे, गुणवन जिचकार, शामराव तायवाडे, प्रमोद चापले, डा. धारपुरे, घनश्याम गांधी, अरुण राउत तथा अनेक किसान उपस्थित थे.

    मासोद के तलाठी पर कार्रवाई
    ओलावृष्टि ग्रस्त क्षेत्र का निरिक्षण करते हुए इस क्षेत्र के पटवारी योगेश मून 27 जनवरी 2015 से उनुपस्थीत रहने का किसानों ने बताया. तब विधायक ने इस दौरान पटवारी पर कार्रवाई करने का आदेश दिया. ओलावृष्टि ग्रस्त क्षेत्र का निरिक्षण करते समय एच.डी.ओ. अविनाश कातडे, तहसीलदार सचिन गोसावी, नायब तहसीलदार रमेश कोलपे, जि. कृषि अधिकारी सुबोध मोहरील, तालुका कृषि अधिकारी जुनघरे, गटविकास अधिकारी अशोक खाडे, मंडल अधिकारी राजेंद्र जयजाल और अन्य विभाग के कर्मचारी उपस्थित थे.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145