Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, May 16th, 2018

    काम नहीं करने वाले पार्टी छोड़ें

    नागपुर: नागपुर शहर कांग्रेस कमेटी कार्यकारिणी की देवड़िया भवन में हुई बैठक में शहर अध्यक्ष विकास ठाकरे ने स्पष्ट कर दिया कि जिन्हें पार्टी व संगठन को मजबूत करने के लिए कार्य नहीं करना है वे स्पष्ट रूप से बता दें, उन्हें मुक्त कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि संगठन को मजबूत बनाने के लिए प्रत्येक पदाधिकारी को अपने-अपने वार्ड में जनता की समस्या के निराकरण के लिए सहकार्य करना चाहिए. सक्रिय व्यक्ति ही संगठन में रहें. जिन्हें काम नहीं करना है वे स्पष्ट बता दें, उन्हें मुक्त कर दिया जाएगा और कार्य करने के इच्छुक को अवसर दिया जाएगा. उन्होंने यह भी कहा कि जो पदाधिकारी 3 बैठकों में लगातार गैरहाजिर रहेगा उसे प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आदेशानुसार पदमुक्त कर दिया जाएगा. ठाकरे ने कहा कि अनेक लोगों ने चुनाव के वक्त टिकट मांगने के लिए लाइन लगाई थी लेकिन वही अब वार्ड में तक काम नहीं कर रहे हैं. उन्होंने ब्लाक अध्यक्षों को बूथ कमेटी, प्रभागनिहाय बैठक आयोजित करने और रिपोर्ट शहर कमेटी को देने का निर्देश भी दिया. बैठक में उपाध्यक्ष दिनेश बानाबाकोड़े, जयंत लुटे, उमाकांत अग्निहोत्री, प्रशांत धवड़, रमेश पुणेकर, गजराज हटेवार, बंडोपंत टेंभुर्णे, अक्षय समर्थ, अशोक यावले, नलिनी करागले, निर्मला बोरकर, पंकज निघोट उपस्थित थे.

    मनपा सभागृह में चुप न बैठें नगरसेवक

    ठाकरे ने इस बात पर भी खेद व्यक्त किया कि जब सत्तापक्ष के भ्रष्टाचारों व अनियमितता के साथ ही शहर की जनता की मूलभूत समस्याओं का मुद्दा विरोधी पक्ष नेता उठाते हैं तो पार्टी के नगरसेवक चुप्पी साधे बैठे होते हैं. उन्हें अपने नेता का सहकार्य करने चाहिए ताकि सत्तापक्ष व मनपा प्रशासन पर दबाव बन सके. उन्होंने कहा कि नगरसेवकों के वार्ड में जनता की समस्याओं के निराकरण के लिए संपूर्ण शहर कांग्रेस कमेटी पूरी ताकत से खड़ी है इसलिए वे पुरजोर तरीके से सदन में अपने वार्ड-प्रभाग की समस्याएं उठाएं. ओसीडब्ल्यू, सायबर टेक, कनक रिसोर्सेस, सीमेन्ट रोड निर्माण में होने वाले भ्रष्टाचार का आर्थिक भाग शहर की जनता को भुगतना पड़ रहा है. इसका सभी नगरसेवकों द्वारा तीव्र विरोध किया जाना चाहिए.

    भ्रष्टाचार के मुद्दे उठाओ

    ठाकरे सहित अन्य पदाधिकारियों ने नगरसेवकों को सदन में सत्ताधारियों व मनपा प्रशासन के विविध भ्रष्टाचार के मुद्दों पर घेरने हेतु मार्गदर्शन किया. संजय महाकालकर ने 572 लेआउट व प्रापर्टी टैक्स की समस्या, अक्षय समर्थ ने सार्वजनिक बोरवेल, साफसफाई, दर्शनी धवड़ ने बोरवेल की समस्या के निराकरण पर सुनवाई नहीं होने, हरीश ग्वालबंशी ने जनता की विविध समस्याओं को बैठक में रखा. विकास ठाकरे ने स्ट्रीट लाइट व सीमेंट रोड के घोटालों के मुद्दे की बात रखी.

    17 को मनपा आयुक्त का घेराव

    बैठक में निर्णय लिया गया कि उपरोक्त सभी समस्याओं को लेकर नगरसेवकों व कांग्रेस कमेटी की ओर से 17 मई को दोपहर 3 बजे मनपा आयुक्त का घेराव किया जाएगा. इस घेराव में सभी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के शामिल होने की अपील भी की. बैठक में वासुदेव ढोके, रेखा बाराहाते, भारती कांबले, इरशाद मलिक, अतीक अलिक, इरशाद अली, अशोक निखाड़े, राजेन्द्र नंदनकर, प्रवीण गवरे, महेश श्रीवास, युवराज लांडे, राजेश पौनीकर, आशुतोष कांबले, शुभांगी चित्तलवार, प्रवीण आगरे, धरम पाटिल, अन्ना राऊत, योगेश देवतले, किशोर गीद, मिलिंद दुपारे, शत्रुघ्न मोहतो, हरीश ग्वालबंशी, ईश्वर बरडे, हरि नायक, बबन दुरुगकर, अरविंद वानखेड़े, किरण गडकरी, प्रकाश बांते, योगेश देवतले, विलास वाघ, गोविंद ढोंगे, अब्दुल नियाज, जान थामस, हरि यादव, संजय सरायकर सहित बड़ी संख्या में पदाधिकारी उपस्थित थे.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145