Published On : Thu, Mar 30th, 2017

सुरक्षाका अभाव, बाल सुधारगृह से भागे बच्चे

नागपूर: नागपूर के पाटणकर चौक स्थित बाल सुधारगृह को पुलिस के कवच का अभाव होने कि वजह से बुधवार कि तड़के ४.३० से ५ बजे के दरमियान १४ बच्चे भागने में सफल हो गये है. जिसकी वजह से नागपूर शहर पुलिस व बाल सुधारगृह प्रशासन में भगदौड़ मची है. इस बाल सुधारगृह को पुलिस सुरक्षा दी जाए इसलीए कई मर्तबा बाल सुधारगृह प्रशासन ने नागपूर पुलिस आयुक्त को पत्र लिखा, लेकिन कई पुलिस आयुक्तका तबादला होगया मगर आजतक बाल सुधारगृह को पुलिस सुरक्षा नही मिलने के वजह से बच्चे भागने में सफल हो जाते है. ४ दिसंबर २०१६ को इस बाल सुधारगृह से १४ बच्चे भागने में सफल हुवे थे. आज भी नागपूर पूलिस ३ बच्चो कि तलाश कर रही है. बुधवार को भागे १४ बच्चो में से तीन बच्चों को आरपीएफ पुलिस ने नागपूर मध्य रेल्वे स्टेशनपर धरदबोचा है, किंतु ११ बच्चे आजभी भागने मे सफल हो गये है. बाल सुधारगृह में विधी संघर्ष ग्रस्त बच्चों को सुधारणे के लिये रखा जाता है. इन बच्चों कि देखरेख के एक केअर टेकर होता है. कर्मचारीयों का अभाव के कारण भी बच्चे भागने में सफल हो जाते है. सरकारी नियम के अनुसार बाल सुधारगृह र्मे रहनेवाले बच्चों को प्रतिदिन पोषक आहार दिया जाता है. इसके बावजूद भी बाल सुधारगृह से बच्चे भागने का सिलसिला शुरू रहने कि वजह से उपरोक्त प्रशासन परभी सवाल उठाया जारहा है