Published On : Wed, Jul 7th, 2021

नप में कर्मियों का आभाव,पिल्लई ने अनशन जारी

– पिछले 7 साल से सतत मांग की जा रही,जल्द सुनवाई नहीं हुई तो आमरण अनशन करने की दी चेतावनी

कन्हान : नगर परिषद् कन्हान-पिपरी के कार्यालय में प्रशासकीय अधिकारियों-कर्मियों की कमी के कारण विकासकार्यों में बाधा हो रही.जिसे दूर करने के उद्देश्य से शिवसेना के जिला उपप्रमुख वर्द्धराज पिल्लई ने नगरपरिषद कार्यालय के समक्ष गत दिनों अनशन किया जा रहा,जल्द निराकरण किया गया तो छठवें दिन से आमरण अनशन करेंगे।

पिल्लई ने बताया कि राज्य सरकार ने ‘क’ श्रेणी का कन्हान नगरपालिका का गठन वर्ष 2014 में किया था.तब से मंजूर पदों को पूर्णतः भरा नहीं गया,नतीजा विकास कार्य सह रोजाना के कामकाजों पर असर पड़ रहा.इससे क्षुब्ध होकर उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिख आगाह किया कि समय रहते नगरपालिका की मूल समस्या का निवारण नहीं किया गया तो 5 जुलाई 2021 को नगरपालिका के सामने अनशन किया जाएगा,इससे होने वाली सभी प्रकार के नुकसान के जिम्मेदार जिला प्रशासन की होगी।

पिल्लई के अनुसार कर्मियों के आभाव में समय-समय पर जनहित योजनाओं से स्थानीय नागरिकों को या तो महरूम होना पड़ रहा या फिर काफी विलम्ब हो रही.जिले में शिवसेना के सांसद,सेना के विधायक,नगरपरिषद के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष शिवसेना के होने के बाद भी शिवसेना मुख्यमंत्री रिक्त पदों को भर्ती करने के प्रति गंभीर नहीं।

उक्त मामले को लेकर कई दफे नगराध्यक्ष ने पत्र व्यवहार किये लेकिन कोई उपाययोजना नहीं की गई.

इसलिए पिल्लई ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से गुजारिश की हैं कि जल्द से जल्द अविलंब रिक्त पदों को भरा जाए,अन्यथा आगामी 5 जुलाई 2021 को नगरपालिका के समक्ष अनशन करने को मजबूर होना पड़ेगा।मुख्यमंत्री को लिखे गए पत्र की प्रति नगरविकास मंत्री एकनाथ शिंदे,जिलाधिकारी आदि को भेजी गई हैं.

समाचार लिखे जाने तक राज्य सरकार की ओर से अबतक कोई ठोस पहल नहीं की गई.