Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sun, Apr 4th, 2021

    नागपुर शहर के पांचपावली पुलिस स्टेशन को जानिये

    भाग 9 : पांचपावली पुलिस स्टेशन

    नागपुर टुडे : नागपुर शहर का पांचपावली पुलिस स्टेशन सन 1925 में स्थापित हुआ था, जो अब 100 वर्ष पूरा करने की ओर बढ़ रहा है यह शहर के सबसे पुराने पुलिस स्टेशन में से एक है । विगत अनेक वर्षों से पांचपावली पुलिस स्टेशन का परिसर काफी संवेदनशील माना जाता रहा है. वर्तमान में इस पुलिस स्टेशन की कमान वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक किशोर दुर्वास नगराले के हाथो में है वे 1996 बैच के पीएसआई है । श्री. नगराले इन्हें सख्त मिजाज के अधिकारी के रूप में जाना जाता है । इस पुलिस स्टेशन के स्टाफ के बारे में अगर बात करे तो इस पुलिस स्टेशन में करीब 10 पुलिस अधिकारियों सहित 139 पुरुष तथा महिला पुलिस कर्मियों का समावेश है । पांचपावली पुलिस स्टेशन के अधीन 4 बिट्स शामिल है, जिसमे टेका नाका, रानी दुर्गावती परिसर, नाईक तालाब और लष्करीबाग शामिल है । इस क्षेत्र में बांग्लादेश इलाके के साथ-साथ नाईक तालाब, लष्करीबाग, टेका नाका, नया तालाब , रानी दुर्गावती चौक परिसर अति- संवेदनशील माने जाते है । इन इलाकों पर पांचपावली पुलिस काफी चौकस रहकर आपराधिक गतिविधियों पर 24 घंटे निगरानी रखती है ।

    ‘ नागपुर टुडे ‘ से पुलिस निरीक्षक किशोर नगराले ने चर्चा करते हुए बताया कि, पांचपावली क्षेत्र में अपराध रोकने के लिए उन्होंने अनेक पुख्ता उपाय किए है । उनका मानना है कि, कुछ परिसर वाकई संवेदनशील है और कुछ एक असामाजिक तत्व भी यहां मौजूद है, ऐसे में किसी भी समय एक छोटे से विवाद पर भी बड़ी घटना घटित हो सकती है, इसलिए पुलिस द्वारा लगातार सुक्ष्म ध्यान रखकर ऐसे इलाकों में दिन और रात में पुलिस पेट्रोलिंग पर जोर दिया जाता है ।

    PI Kishor Nagrale

    पुलिस निरीक्षक नगराले ने बताया की उन्होंने परिसर के स्थानीय नागरिकों के साथ अपना निजी मोबाइल नंबर – 9823145947 साझा किया है, ताकि परिसर में किसी भी तरह की समस्या होने पर उनसे तत्काल संपर्क किया जा सकता है । इसके साथ ही किसी भी तरह की कोई भी खुफीया जानकारी अगर परिसर का कोई भी नागरिक देना चाहता तो वह बेखौफ होकर उन्हें दे सकता है. श्री. नगराले ने ऐसी गुप्त जानकारी देनेवाले सचेत नागरिकों को विश्वास दिलाया है की उनकी पहचान को हमेशा गुप्त रखा जाएगा ।

    असामाजिक तत्वों के खिलाफ कार्रवाई
    पांचपावली पुलिस स्टेशन के अंतर्गत खून, डकैती, चोरी और छीना-झपटी के ज्यादा मामले घटित होते है, अन्य पुलिस स्टेशनो की तुलना में. ऐसे अपराधों को रोकने के लिए कुख्यात अपराधियों, अवैध शराब बेचनेवालोंऔर जुआ अड्डा चलानेवालों के खिलाफ लगातार सख्त कानूनी कार्रवाई जारी है. पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आनेवाले कुख्यात अपराधियों के पुराने रिकॉर्डों को स्कैन किया गया है और सीआरपीसी की धारा 71 CrPc 151/1 साथ ही 110 सीआरपीसी के तहत हाल ही में कुल 33 कार्रवाईयो में करीब 54 अपराधियों को सेंट्रल जेल भेजा गया है. विगत वर्ष में 4 कुख्यात बदमाशो को शहर से तड़ीपार भी किया गया था तथा 1 अपराधी को एमपीडीए के तहत जेल भेजा गया था. 2021 में भी कुछ शातिर बदमाशो को चिन्हित कर उनके खिलाफ कड़क कानूनी कार्रवाई की जाएगी ।

    स्थानीय नागरिकों के साथ समन्वय और संपर्क
    पुलिस निरीक्षक नगराले के अनुसार परिसर में शांति और सौहाद्र का माहौल बना रहे जिसके लिए आएदिन इलाके में “शांति बैठकें, मोहल्ला बैठकें और वरिष्ट नागरिकों के साथ बैठके की जाती है. इसके अलावा परिसर के नागरिकों की शिकायतों को सुनने के लिए पुलिस स्थानीय नागरिकों, नेताओ, नगरसेवकों और दुकानदारों के साथ संपर्क बनाकर लगातार बातचीत भी करती है । पांचपावली क्षेत्र में घनी आबादी होने के कारण कभी-कभी मामूली विवाद भी बड़ा स्वरूप ले लेते है । यही कारण है कि, पुलिस द्वारा अदखलपात्र ( NC ) मामलों में भी विशेष ध्यान दिया जाता है । श्री. नगराले ने क्षेत्र के वरिष्ठ नागरिकगण को अपना निजी मोबाइल नंबर भी दे रखा है ताकि कोई समस्या आने पर वे उनसे तत्काल संपर्क साध सकते है ।

    पांचपावली पुलिस करती है अपराधियों की नियमित जांच
    पुलिस निरीक्षक नगराले के अनुसार परिसर के आपराधिक तत्वों पर पैनी निगाह रखकर दिन और रात में उन्हें चेक किया जाता है । क्षेत्र में गंभीर अपराधों को रोकने के लिए पुलिस के पास जो अपराधियों का जो चार्ट उपलब्ध है, उसके आधार पर इन सभी अपराधियों की नियमित जांच भी की जाती है । पांचपावली पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आनेवाले परिसरों के सभी छोटे-बड़े शातिर अपराधियों और असामाजिक तत्वों को पीआई नगराले ने सुधरने की हिदायत देते हुए इलाके की सामाजिक शांति भंग नहीं करने की कड़ी चेतावनी भी दे रखी है । जिसकी वजह से अपराधियो के मन मे उनके प्रति खौफ व्याप्त है । ऐसे अपराधियो के खिलाफ शिकायत मिलने पर तत्काल एक्शन लेने का प्रावधान है ।

    नागपुर शहर के नागरिकों को अपने एरिया के पुलिस स्टेशन के बारे में जानकारी हो, इस उद्देश्य को ध्यान में रखकर ‘ नागपुर टुडे ‘ ने एक विशेष सीरीज शुरू की है, जिसका नाम – अपने पुलिस स्टेशन को जानिये ‘ है. इसमें पुलिस स्टेशन से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी आम जनता तक पहुंचाने का प्रयास किया गया. पुलिस स्टेशन की स्टोरी में आप अपने क्षेत्र के संबंधित पुलिस स्टेशनों के पुलिस इंस्पेक्टर, किसी भी आपात स्थिति के दौरान उनसे संपर्क करने के साधन, क्षेत्र में होनेवाली आगामी योजनाओ के बारे में जानकारी पहुंचाने की कोशिश ‘ नागपुर टुडे ‘ की ओर से की जा रही है.

    – रविकांत कांबले


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145