Published On : Thu, Mar 1st, 2018

इस्कॉन : जगन्नाथ रथ यात्रा की तैयारियां पूर्ण, अंतिम सभा संपन्न

ISKCON
नागपुर: अंतर्राष्ट्रीय कृष्ण भावनामृत संघ (इस्कॉन) के नागपुर केंद्र द्वारा आयोजित जगन्नाथ रथ यात्रा की तैयारियों के लिए अंतिम सभा श्री श्री राधा गोपीनाथ मंदिर प्रांगण, एम्प्रेस सिटी गेट न. २, गांधीसागर के पास, सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष किशोर धाराशिवकर की अध्यक्षता एवं प्रसिद्द व्यवसायी महेश गाँधी के मुख्य आथित्य में संपन्न हुयी। सर्व प्रथम मंदिर उपाध्यक्ष अद्वैताचार्य दास ने कार्यक्रम के अध्यक्ष किशोर धाराशिवकर को माल्यार्पण किया तदुपरांत अन्नामृत फाउंडेशन नागपुर के सचिव राजेंद्रन रामन ने मुख्या अतिथि महेश गाँधी का माल्यार्पण कर स्वागत किया। फेस्टिवल इंचार्ज विशाल दास ने प्रस्तावना रखी। अध्यक्ष धाराशिवकर ने अपने उद्बोधन में कहा, भगवान स्वयं अपना काम करवा लेते है हमारी कोई ताकत नहीं रहती है। वो जब शक्ति देते है तभी हम सेवा कर पाते है , उन्होंने यह भी कहा सराफा एसोसिएशन के कई सदस्य रथ यात्रा के कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोग कर रहे है।

अन्नामृत फाउंडेशन नागपुर के अध्यक्ष एवं इस्कॉन प्रवक्ता डॉ. श्यामसुन्दर शर्मा ने बताया कि श्रील लोकनाथ स्वामी महाराज के सानिध्य में होने वाली जगन्नाथ रथ यात्रा का प्रथम पूजन नागपुर जिले के पालक मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले एवं नागपुर नगर की प्रथम महिला एवं महापौर नंदाताई जिचकर करेंगे। इनके साथ ही नागपुर के राजा उद्धोजी भोसले, रामजन्म शोभा यात्रा के सयोंजक रामकृष्ण पोद्दार, उमेश शर्मा, सुरेश शर्मा, जय प्रकाश गुप्ता द्वारकाधीश मंदिर के सचिव पुखराज बंग, पुरुषोत्तम मालू, अशोक गोयल, धर्मपाल अग्रवाल, ओमप्रकाश मैनानी,रमेश रांदड़, जलाराम मंदिर के योगेश जोशी, विमल अग्रवाल इत्यादि अनेक गणमान्य नागरिक प्रथम पूजन में सम्मलित रहेंगे। रथयात्रा ५ मार्च को दोपहर १२ बजे पोद्दारेश्वर राम मंदिर (मेयो हॉस्पिटल चौक) से प्रारम्भ होकर शाम ६ बजे एम्प्रेस सिटी पहुंचेगी।

इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिये कॉर्पोरटर बालपांडे, प्रदीप गुप्ता, अनिल मोहता, राजीव अग्रवाल, उर्मिला अग्रवाल, मोहन अभ्यंकर, जवाहर पटेल, रवि अग्रवाल, वासुदेव प्रभु, नितिन खेतान, हेमंत खुंगर, आनंद पुनियानी, हजारीलाल अग्रवाल, नत्वार्गोविंद प्रभु, गिरीश व्यास, घटे दुग्ध मंदिर, थाडेश्वरी मंदिर के माधवदास महाराज, झुलेलाल मंदिर के हरीश नागपाल, करपंकज प्रभु, इत्यादि अनेक भक्त सहयोग कर रहे है।