Published On : Sat, Oct 27th, 2018

काल सदृश्य स्थीती में सरकार किसानों के साथ पालकमंत्री बावनकुले

नागपुर जिलेके पालक मंत्री चंद्रशेखरबावनकुले द्वारा 27अक्तुबर के सुबह 10-30 बजे से ही नागपुर जिले के अकालग्रस्त कलमेश्वर ,काटोल,तथा नरखेड तहसील के अकलग्रस्त किसानों के खेतों में पहुंच कर आज के स्थिती मे किसानों के फसलों का अकाल संबधित विभाग के अधिकारीयों को साथ लेकर
[ कळमेश्वर तहसील के -(पारडी देशमुख) ,काटोल तहसील के सोन खांब,ताराबोडी, तथा चिखली मैना,एंव नरखेड अंबाडा देशमुख ,शेमडा तथा -”” गांव के किसानों के खतों पर पहुंच कर कपास ,तुअर फसलों का जायजा लिया तब पालकमंत्री ने किसानों से प्रत्यक्ष बात कर कृषी तथा ग्रामविकास के अधिकारियों के समक्ष प्रत्यक्ष ब्योरा लिया.

इस अवसर पर जि. प. अध्यक्ष नीशाताई सावरकर विधायक गिरिष व्यास, नागपुर जि प शिक्षण सभापती उकेश चव्हान, काटोल पंचायत समीती सभापती संदीप सरोदे, काटोल न प गटनेते चरणसिंह ठाकूर, नरखेड चे सभापती राजेंद्र हरने, जि प सदस्य चंद्रशेखर चिखले उपसभापती योगेश चाफले,भा ज प जिल्हाध्यक्ष डाॅ राजीव पोतदार , भा ज प काटोल विस्तारक अविनाश ठाकरे, गोन्ही चे सरपंच मुरोडीया, विनोद काळे,किशोर गाढवे,संजय राऊत,याकूब पठाण ,यादवराव बागडते, स्वप्नील व्यास काटोल चे एस डी ओ श्रीकांत उंबरकर, तहसीलदा अजय चरडे,नायब तहसीलदार निलेश कदम,जिल्हा पशुधन अधिकारी डाॅ हिरूडकर, बी डीओ सुनील साने , काटोल पी आय सतिशसिंह राजपुत,कृषीअधिकारीशेंडे, कन्नाके,यांचे सह वीज, कृषी ,पाणी पुरवठा, राजस्व,सह संबधित खात्याचे अधिकारी अकालग्रस्त दौरे मे पालकमंत्री के साथ में थे।

पत्रकारों से साधा संवाद
कलमेश्वर -काटोल-तथा नरखेड के अकालग्रस्त क्षेत्र के दौरे के बाद पालक मंत्री बावनकुले ने काटोल पंचायसमीती के सभागृह में काटोल तहसील के पत्रकारों से संवाद साधा तथा इस अवसर पर पालकमंत्री ने नागपुर जिले के अति तिव्र अकालग्रस्त तहसीलों के वर्गवारी बाताई जिसमें 33प्रतिशत से 50प्रतिशत तथा 50प्रतिशत से 100प्रतिशत तक अकालग्रस्त क्षेत्रों का सत्यापन किया ।


जिसमें काटोल नरखेड तथा कलमेश्वर तहसीलों के अधिक पैदावारलेनेवाली फसलों का जायजा लिया गया जिसमें कपास तुअर तथा सोयाबीन के फसलो उपज का का जायजा लेनेपर काटोल नरखेड तथा कलमेश्वर तहसीलों मे अब तक 80प्रतिशत से भी ज्यादा का नुकासन आंका गया है। तथा अब तक यहां के अकाल के स्थिती के सत्यापन की जानकारी मुख्यमंत्री को दि जायेगी।

तथा किसानो को राहत मिलेगी यह प्रयास करेंगे जिसमे अकालग्रस्त कि घोषना के बाद आठ प्रकार की सहूलियते दीये जायेगी। जिस में पेयजल आपुर्ती ,पशुओंको चाराछावनी, स्थानिय स्वराज्य संस्थाओं के पेरजल आपुर्ती तथा किसानों के बीजली पंपो की बीजली आपुर्ती खंडीत नही की जायेगी, खेतीहर मजदूरों को एम जी आर एस तथा पालकमंत्री पांधन योजना के तहत काम तथा आवश्यकता वाले गांवों को टैंकर शुरू करने की सुचना तहसीलदारों को दी गयी है। इसी प्रकार किसानो के बीजली पंपो को दिन में ही बीजली मिले इस प्रकार की वितरण व्यवस्था करने के आदेश दिये गये है।

अकाल के मुद्देपर सभी राजनितीक दल शासन को सहयोग करे समाचार माघ्यमों से भी सकारात्म सहयोग की मांग पालक मंत्री ने दोहराई तथा राष्ट्रवादी के सलील देशमुख ,शेकाप के राहूल देशमुख तथा समिर उमप ने दिये गये ज्ञापन स्वाकारे की जानकारी भी इस अवसर परदी ! साथही इस अवसर पर कृषी अधिकक्षक मिलींद शेंडे ने काटोल नरखेड तथा कलमेश्वर तहसील मे खरीफ के फसलों की बुआई का जायजा बताया तथा नुकसान की जानकारी दी।

पत्रकार संवाद परिषद मे सभापती संदिप सरोदे , चरणसिंह ठाकूर ,डाॅ राजीव पोतदार, किशोर रेवतकर, जिल्हा परिषद सभापती उकेश चव्हाण, अविनाश ठाकरे,दिनेश टूले, नरखेड न. प उपाध्यक्ष अजय बालपांडे, प. स उपसभापती योगेश चाफले, एस डी ओ श्रीकांत उमरकर, कृषी अधिक्षक मिलींद शेंडे, तहसीलदार अजय चरडे, नायब तहसीलदार निलेश कदम, बीजली अधिकक्षक सहारे, नारायन आमझरे,घाटोले, बी डी ओ सुनिल साने, उपस्थित थे।