Published On : Fri, May 12th, 2017

मेयो अस्पताल में मनाया “अंतर्राष्ट्रीय नर्सिंग दिवस”

Mayo Hospital
नागपुर:
 नर्सिंग दुनिया का सबसे ज्यादा सेवा देनेवाला पेशा है. नर्से को माँ का दूसरा रूप भी कहा जाता है. उनके सम्मान और त्याग को बढ़ावा देने के लिए आज मेयो अस्पताल में “अंतर्राष्ट्रीय नर्सिंग दिवस” मनाया गया. इस कार्यक्रम में संगीत के साथ कुछ परिचारिकाओं ने पीपीटी प्रेजेंटेशन भी दिया. एक नर्स मरीज की शारीरिक पीड़ा को समझकर मरीजों को बीमारिओ से लड़ने का हौसला देती है. विश्वभर में “अंतर्राष्ट्रीय नर्सिंग दिवस” नोबेल नर्सिंग सेवा की शुरुआत करने वाली फ्लोरेन्स नाइटेंगल के जन्मदिन के अवसर पर यह मनाया जाता है. यह दिवस चिकित्सा प्रणाली को सहजता से मजबूत बनाने में नर्सेों के महत्वपूर्ण योगदान को समर्पित होता है. इसी को ध्यान में रखकर स्वास्थ्य सेवाओं में नर्सिंग के योगदान को सम्मानित करने के लिए मेयो अस्पताल में नर्सिंग दिवस धूमधाम से मनाया गया.

इस कार्यक्रम के दौरान मौजूद महापौर नंदा जिचकार ने कहा कि एक नर्स दिन में 30 -40 मरीजों को सेवा देती है. यह बहुत बड़ी बात है. यह सच है कि डॉक्टर इलाज करते हैं लेकिन दिन रात उस मरीज की देखभाल, टाइम पर मरीज को दवा देना, उनकी सेहत का ख्याल तो नर्स ही करती है. इस कार्यक्रम में मेयो अस्पताल के अधिष्ठाता डॉ. प्रदीप दीक्षित, अभ्यंगत मंडल सदस्य जीतेन्द्र ठाकुर और अन्य लोग उपस्थित थे.