Published On : Tue, Nov 8th, 2016

दर्दनाक हादसे में साढ़े तीन वर्षीया मासूम की मृत्यु

Advertisement

arman-ali-patel
नागपुर:
महल परिसर में एक दर्दनाक घटना में साढ़े तीन वर्षीया मासूम बालक की मृत्यु हो गई। हादसा बोरवेल के अंदर की मोटर को निकालने के दौरान हुआ और इसमें ठेकेदार की लापरवाही सामने आयी है। कोतवाली थाना अंतर्गत आने वाले महल इलाके के नाईक रोड पर निर्माणाधीन माकन में बोरवेल की खुदाई के बाद गड्ढे के अंदर से मोटर निकालने का काम शुरू था। ट्रैक्टर की मदत से चैन लगाकर मोटर निकालने के इस काम को देखने के लिए कई बच्चे खड़े थे जिनके साथ अरमान अली पटेल भी खड़ा था। शुरू काम के बीच में ही अचानक बोरवेल से मोटर निकालने के लिए उपयोग में ली जा रही चैन का क्लैम अचानक टूट गया और पास खड़े अरमान की छाती में लगा। क्लैंप लगने के बाद अरमान जमीन पर गिर गया।

इस हादसे में घायल अरमान को इलाके के नागरिक एच जी हॉस्पिटल ले गए जहाँ से उसे सीए रोड स्थित रहाटे हॉस्पिटल रेफर किया गया। पर रहाटे हॉस्पिटल ने अरमान को इलाज के लिए मेयो हॉस्पिटल ले जाने की सलाह दिया। मेयो अस्पताल में अरमान का करीब 1 घंटे तक इलाज चला लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। अरमान की मौत से गुस्साए नागरिको ने मेयो अस्पताल में अपना गुस्सा जाहिर करते हुए इस हादसे के लिए जिम्मेदार ठेकेदार के खिलाफ कार्यवाही करने की माँग की।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक जहाँ यह काम शुरू था उसके पास ही अरमान अन्य बच्चो के साथ खेल रहा था तभी चैन का क्लैंप टूट गया और उसकी छाती में लगा। अरमान की मौत के बाद महल इलाके में शोक की लहर व्याप्त हो गई। नागरिको में भारी रोष व्याप्त है नागरिको के मुताबिक बोरवेल से मोटर निकालने के लिए क्रेन की मदत ली जानी चाहिए थी पर ठेकेदार ने ऐसा नहीं किया। काम के दौरान लापरवाही से ही उसकी मौत हुई है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement