Published On : Fri, Jun 8th, 2018

CISF ने संभाली शिरडी एयरपोर्ट की सिक्‍योरिटी

नई दिल्ली : शिरडी अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट की सुरक्षा की जिम्‍मेदारी आज से सीआईएसएफ के पास होगी. गुरुवार को सीआईएसएफ ने एक सैन्य समारोह के दौरान शिरडी अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट की नियमित सुरक्षा का दायित्व संभाल लिया है. इस एयरपोर्ट पर डिप्‍टी कमांडेंट के नेतृत्‍व में कुल 180 बल सदस्यों की तैनाती की गई है. उल्‍लेखनीय है कि शिरडी अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट, प्रसिद्ध शिरडी साई बाबा मंदिर से लगभग 12 किमी की दूरी पर काकाडी गांव में स्थित है. दुनियां भर से बडी संख्या में श्रधालु शिरडी आते हैं, उन सभी को इस एयरपोर्ट से विशेष लाभ होगा.

सीआईएसएफ के सहायक महानिरीक्षक हेमेंद्र सिंह के अनुसार, 1 अक्टूबर 2017 को इस एयरपोर्ट का उद्घाटन हुआ था. शिरडी एयरपोर्ट महाराष्ट्र एयरपोर्ट डेवलपमेंट कंपनी (एमएडीसी) के अधीन है. इस एयरपोर्ट पर एक टर्मिनल बिल्डिंग व 2500 मीटर लंबा रनवे है. शिरडी एयरपोर्ट लगभग 1300 एकड भूमि पर फैला हुआ है. उन्‍होंने बताया कि देश भर में विमानन क्षेत्र में बढ़ती सुरक्षा चुनौतियों के परिपेक्ष्य में शिरडी अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट की सुरक्षा अत्यंत महत्वपूर्ण है. गौरतलब है कि तीर्थयात्री, विदेशी और महत्वपूर्ण व्यक्ति इस एयरपोर्ट के माध्यम से शिरडी साई मंदिर बाबा के दर्शन हेतु आवागमन करते हैं.

उन्‍होंने बताया कि एयरपोर्ट सेक्‍टर के महानिरीक्षक सीवी आनंद की मौजूदगी में सीआईएसएफ ने शिरडी अंतर्राष्‍ट्रीय एयरपोर्ट को टेकओवर किया है. टेकओवर प्रॉसेस के दौरान एयरपोर्ट निदेशक धीरेन भोसले, वरिष्ठ जिला प्रशासनिक अधिकारी, राज्य पुलिस के अधिकारी भी मौजूद थे. सीआईएसएफ की इस नई इकाई की स्थापना के साथ, सीआईएसएफ के सुरक्षा कवच में अब कुल 60 एयरपोर्ट आ गए हैं. इस एयरपोर्ट का प्रशासनिक नियंत्रण सीआईएसएफ के उप-महानिरीक्षक पश्चिमी क्षेत्र (एयरपोर्ट) मुम्बई के अधीन होगा.

सीआईएसएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार शिरडी अंतर्राष्‍ट्रीय एयरपोर्ट पर इंडक्‍शन के बाद सीआईएसएफ देश के कुल 60 एयरपोर्ट की सुरक्षा की जिम्‍मेदारी संभाल रही थी. 2012 में सीआईएसएफ ने 59वें एयरपोर्ट के तौर पर दीव एयरपोर्ट की सिक्‍योरिटी टेकओवर की थी. शिरडी एयरपोर्ट सीआईएसएफ का 60वां एयरपोर्ट है. अधिकारी ने बताया कि केरल के कन्‍नूर एयरपोर्ट और आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा एयरपोर्ट के सुरक्षा अधिग्रहण की तैयारी कर रहा है. सभवत: इस साल के अंत तक दोनों एयरपोर्ट की सुरक्षा सीआईएसएफ के हवाले कर दी जाए.