Published On : Sat, Jun 30th, 2018

जब नागपुर के पत्रकार पर भड़के संघ के इंद्रेश कुमार


राष्ट्रीय स्वयंवसेक संघ के राष्ट्रीय कार्यकारणी सदस्य और वरिष्ठ प्रचाकर नागपुर में पत्रकार के सवाल पर भड़क गए और उन्होंने उसे जमकर खरीखोटी भी सुनाई। कुमार आज नागपुर में थे और एक कार्यक्रम में दौरान उन्होंने भारत के सामने खड़ी चुनौतियों इस विषय पर व्याख्यान दिया।

अपने प्रभावी भाषणों के लिए प्रसिद्ध कुमार ने देश में आपसी प्रेम और भाईचारे को नए सिरे से स्थापित करने पर बल दिया। मानसिक तनाव को कम करने के गुर भी सिखाये। उन्होंने बताया की देश में सबको एक दूसरे के धर्म का आदर करना चाहिए। जिससे प्रेम बढे,अलग-अलग धर्मो में लोग आपस में संवाद नहीं करते जिससे मनमुटाव बढ़ता है। इस बात को प्रैक्टिस में लाने के लिए उन्होंने न सिर्फ तरीका बताया बल्कि उनका भाषण सुनने उपस्थित लोगो से उस प्रैक्टिस को करवाया भी।

भाईचारे को बढ़ाने के लिए उन्होंने अलग-अलग धर्म के लोगो से दूसरे धर्म के लिए आस्था रखने वाले घोषवाक्यों ( भगवानों के नाम बुलवाये ) लेकिन उन्होंने मुस्लिम धर्मावलम्बियों के घोषवाक्य को नहीं बोला।

इस कार्यक्रम को कवर करने पहुँचे एक पत्रकार ने भाषण के बाद उनसे यह पूछा की क्या उसने ऐसा गलती से हुआ या उन्होंने जानबूझकर नाम नहीं लिया। हालाँकि पत्रकारों से बात करना इंद्रेश कुमार के कार्यक्रम का हिस्सा नहीं था। फिर भी पत्रकार ने बातचीत का प्रयास किया। जिसके जवाब में कुमार ने कहाँ उन्होंने मुस्लिम लोगों द्वारा ईश्वर को याद करते समय कहे जाने वाले शब्द को कहाँ है। उसे पत्रकार नहीं सुन पाए ये उनकी गलती हो सकती है। लेकिन जब पत्रकार अपनी बात पर अड़ा रहा तो इंद्रेश उस पर गुस्सा हो गए।