Published On : Wed, Jun 13th, 2018

स्टायफंड की मांग को लेकर इंटर्न डॉक्टरों ने शुरू की बेमियादी हड़ताल

नागपुर: एसोसिएशन ऑफ़ स्टेट मेडिकल इंटर्न्स महाराष्ट्र के बैनर तले महाराष्ट्र के सभी इंटर्न्स डॉक्टरों ने बुधवार 13 मई से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी है. नागपुर शहर के मेडिकल कॉलेज में भी विद्यार्थियों ने प्रदर्शन किया और डीन ऑफिस के सामने सभी विद्यार्थी डॉक्टर जुटे. डॉक्टरों की मांग है कि उन्हें दूसरे राज्यों की तुलना में बहुत कम स्टायफंड दिया जाता है. महाराष्ट्र के डॉक्टरों को सबसे कम स्टायफंड दिया जाता है.

जबकि यहां की जीडीपी दूसरे राज्यों से ज्यादा है. स्टायफंड की मांग को लेकर इंटर्न डॉक्टरों ने कई बार सरकार से और मंत्रियों से मुलाक़ात कर यह मांग उनके सामने रखी. लेकिन उन्हें केवल आश्वासन ही मिले. डॉक्टरों ने स्टायफंड बढ़ाने की मांग की है. डॉक्टरों को अपनी मांगे मनवाने के लिए हड़ताल का सहारा लेना पड़ा है. हाथों में विभिन्न बैनर लेकर छात्र डॉक्टरों ने मेडिकल परिसर में अपनी मांग बुलंद की.

इंटर्न डॉक्टरों के काम के घंटे तय नहीं होने के कारण डॉक्टरों को काफी समय तक काम करना पड़ता है. जिसके कारण काम की समयसीमा तय करने की मांग भी इस दौरान की गई है.

सरकार की बेरुखी और डॉक्टरों की हड़ताल का खामियाजा सबसे ज्यादा मरीजों को उठाना पड़ेगा. पिछले वर्ष की गई हड़ताल के कारण कई मरीजों को अपनी जान भी गवानी पड़ी थी. जिसके कारण इस बार भी वैसा ही कुछ होने की आशंका भी बनी हुई है.