Published On : Tue, Oct 10th, 2017

नागपुर जिले में बेमौसम बारिश से सोयाबीन की फसलों को नुकसान

Rain Crop Damage

File Pic

नागपुर: पिछले तीन दिनों में नागपुर जिले में हुई बारिश के कारण सोयाबीन और कपास को काफी नुकसान पंहुचा है. सोयाबीन अभी कुछ दिनों में निकालनेवाले थे. साथ ही कपास भी दो महीने बाद आता है. लेकिन बेमौसम हुई बारिश किसानो के लिए नैसर्गिक आपदा बनकर आई है. सोयाबीन की फसल अभी काटने की कगार पर है तो वही लगभग एक से दो महीने बाद कपास भी निकाला जाएगा. लेकिन बारिश के कारण सोयाबीन की फल्लियों को काफी नुकसान पंहुचा है. यवतमाल जिले में कीटनाशक के कारण किसानों की मौत हो चुकी थी. जिसके कारण जिले में किसानों का कितना नुकसान हुआ है, इसके बारे में जानकारी कृषि विभाग तक नहीं पहुंची है. कई वर्षों से किसानों को बेमौसम बारिश के कारण ज्यादा नुकसान उठाना पड़ रहा है.

इस बारे किसान नेता राम नेवले ने बताया कि सोयाबीन का नुकसान हुआ है. कपास के फूल भी बारिश के कारण झड़ गए हैं. जिसके कारण दोनों के उत्पादन में इस बार फिर कमी देखने को मिलेगी. नेवले ने बताया कि 50 प्रतिशत से अगर कम नुकसान हुआ तो सरकार की ओर से नुकसान भरपाई नहीं की जाती. लेकिन जानकारी के अनुसार जिले में 15 प्रतिशत का फसलों का नुकसान बारिश के कारण हो चुका है.

जिले में फसलों के नुकसान के बारे में कृषि अधीक्षक एम.बी.शेंडे ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में बारिश के कारण सोयाबीन का नुकसान हुआ है. हमने सभी को बता दिया है कि नुकसान होने पर जानकारी दी जाए. लेकिन अभी तक विभाग के पास नुक्सान के आंकड़े नहीं पहुंचे हैं.