Published On : Thu, May 28th, 2015

अमरावती का रिकार्ड 92.50 फीसदी नतीजा


बारहवीं में राज्य में दूसरा नंबर

अमरावती। बारहवीं की स्टेट बोर्ड के परीक्षा नतीजे बुधवार को आनलाइन घोषित किये गये. जिसमें अमरावती संभाग के रिकार्ड 92.50 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुये. नतीजे के मामले में अमरावती शिक्षा बोर्ड पूरे महाराष्ट्र में नंबर दो का स्थान बरकरार रखा. पिछले वर्ष 2014 में भी संभाग राज्य में दूसरे नंबर पर था. फरवरी-मार्च 2015 में ली गई बोर्ड परीक्षा में संभाग से कुल 1,17,747 परीक्षार्थी सहभागी हुये. जिसमें से कुल 1,08,921 विद्यार्थी उतीर्ण हुये. संभाग में जिला निहाय रिजल्ट पर गौर करे तो सर्वाधिक वाशिम जिला 94.46 फीसदी नतीजा रहा. यवतमाल-92.75, अकोला-92.70, बुलढाणा-92.59 प्रतिशत नतीजा रहा. सबसे फिसड्डी 91.33 प्रतिशत नतीजा अमरावती जिले का रहा. परंपरा के अनुसार इस वर्ष भी लड़कियों ने लडक़ों को पछाड़ कर साबित किया कि बेटियां बेहतर है.

फिर लड़कियों ने मारी बाजी
प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी लड़कियों ने बाजी मारी है. लड़कियों के उतीर्ण होने का प्रतिशत 94.63 जबकि लडक़ों का 90.65 प्रतिशत रहा है. संभाग में 100 प्रतिशत नतीजे घोषित करने वाली शालाओं की संख्या 132 है. जिसमें यवतमाल ने बाजी मारी तथा इसी जिले की घाटंजी तहसील के देवधरी गांव स्थित शिवाजी माध्यमिक विद्यालय का 0 प्रतिशत नतीजा रहा.
देने की जानकारी पत्रवार्ता में बोर्ड के विभागीय अध्यक्ष संजय गणोरकर ने दी.

संभाग में वाशिम अव्वल
अमरावती शिक्षा बोर्ड विभागीय अध्यक्ष संजय गणोरकर ने पत्र परिषद में बताया कि संभाग में उतीर्ण हुये 1 लाख 08 हजार 921 परीक्षार्थियों में लडक़ों की संख्या 57,068 है. जबकि लड़कियों की संख्या 51,853 है. गत् वर्ष की तुलना में इस वर्ष गुणवत्ता में बढोतरी पायी गई है. 75 प्रतिशत से अधिक अंक वालों का प्रमाण 86.50 प्रतिशत, 60 प्रतिशत से अधिक अंकवालों का प्रमाण 81.85 प्रतिशत, 45 प्रतिशत से अधिक छात्रों का प्रमाण 90 प्रतिशत और मात्र उर्तीण छात्रों का प्रमाण 2 प्रतिशत रहा है.

File Photo

File Photo