Published On : Fri, Jan 17th, 2020

ऊँचे और खराब दर्जे के सीमेंट सड़कों से नागरिकों को हो रही परेशानी

नागपुर शहर कांग्रेस कमेटी व कांग्रेस विधि विभाग ने मनपा आयुक्त को दिया ज्ञापन

नागपुर– नागपुर में लोगों के सुविधा के लिए बनाए जा रहे सीमेंट रोड बन रहे है लेकिन यह निवासियों के लिए असुविधा और परेशानी का कारण बन चुके है। नागपूर महानगर पालिका द्वारा चलाए जा रहे सीमेंट रोड बनाने के अभियान के तहत बस्तियों के अंदरूनी रास्तों पर भी अच्छे डामर रोड के ऊपर सीमेंट रोड बनाने का काम किया जा रहा है। परंतु ये रास्ते बनाने के पहले पैसे बचाने के लिए जरूरी खुदाई ना करने की वजह से सीमेंट रोड की ऊंचाई पहले वाले डामर की सड़क से लगभग एक – डेढ़ फीट ऊंची हो गई है। इस वजह से रास्ते ऊंचे और लोगों के घरों का स्तर नीचे हो गया है।

Advertisement

प्रभाग 15 के अंतर्गत आने वाले धरमपेठ, गड़गा तथा गवलीपुरा क्षेत्र में अंदरूनी रास्ते को सीमेंट रोड बनाने का काम शुरू है। ठेकेदार व नगरसेवकों को बताने के बावजूद, बिना खुदाई कर बनाए जा रहे इन सीमेंट के रास्तों का स्तर वहां के निवासियों के घरों से ऊंचा हो गया है। बीते कुछ दिनों के बारिश में यहां के निवासियों के घर में पानी घुस गया था। सीमेंट रोड तथा उसे बनाने में इस्तेमाल किए गए सामग्री की गुणवत्ता अत्यंत निचले स्तर की होने से नए बनाए गए सीमेंट रोड से गिट्टी बाहर आ रही है। सीमेंट रोड की सतह भी उबड़ खाबड़ है। रिलायंस जिओ इंटरनेट के जो चेंबर अवैध रूप से सड़क के बीचो बीच बनाए गए हैं। उन्हें भी कांट्रेक्टर ने हटाने की बजाए ऊंचा कर सड़क के लेवल पर ला खड़ा कर दिया गया है।

Advertisement

इन्ही गलतियों की शिकायत करने तथा दोषियों पर कार्रवाई करने संबंधी एक निवेदन देने हेतु प्रभाग 15 के नागरिकों को साथ लेकर नागपुर शहर कांग्रेस कमेटी व कांग्रेस विधि विभाग के तरफ से एक प्रतिनिधिमंडल महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी विधि विभाग के सचिव तथा नागपुर शहर कांग्रेस कमेटी के कार्यकारिणी सदस्य व संगठन सचिव एड. अक्षय समर्थ के नेतृत्व में मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर, अतिरिक्त महानगरपालिका आयुक्त. राम जोशी व धरमपेठ झोन अधिकारी (सहाय्यक आयुक्त) प्रकाश वराडे से मिला। महापौर संदीप जोशी, उपमहापौर, आरोग्य अधिकारी, महानगरपालिका नेता प्रतिपक्ष के कार्यालय में भी उपरोक्त विषय को लेकर निवेदन भी सौंपा गया।

मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर को जब यह बताया गया कि यह समस्या केवल प्रभाग 15 की नहीं तो पूरा शहर इस समस्या से जूंज रहा है, तब उन्होंने इसकी गंभीरता समझते हुए तुरंत संबंधित अधिकारी से फोन द्वारा इस विषय पर चर्चा की तथा विषय अत्यंत गंभीर होने की जानकारी दी व एहसास कराया की लोगो की सुविधा के लिए बनाये जा रहे सिमेंट रोड की वजह से लोगो को असुविधा हो रही है व इसके समाधान हेतु जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए। अतिरिक्त मनपा आयुक्त राम जोशी ने भी प्रतिनिधिमंडल की संपूर्ण शिकायते सुनकर मांगों का समाधान करने का आश्वासन दिया। सहायक आयुक्त प्रकाश वराडे ने स्वयं आकर बनाए गए सीमेंट रोड का निरीक्षण करने की बात कही।

एड. अक्षय समर्थ के साथ इस प्रतिनिधिमंडल में नगर कांग्रेस के पदाधिकारी देवेंद्र रोटेले, युगल विधावत, योगेश येरसमवार, एड. अभय रणदिवे, एड. उज्वल राऊत, एड. शबाना दिवान, एड. सुनिता पॉल, एड. अर्चना गजभिये, रामप्रसाद चौधरी, रामभाऊ बांते, विवेक पाटेकर, नरेश नायडू, विशाल सायरे, निखिल नायडू, चंदन पांडे, तथा धरमपेठ, गडगा, गवलीपुरा व रामदासपेठ के निवासी आनंद काठाने, मिलिंद देशपांडे, सोहन कोकोडे, सुनील श्रीवास, गुड्डू गुप्ता, शशांक ओ, सुनील डोहारे, राहुल गौरे, शेंडेजी, प्रथमेश अहिरवार, राजश्री अहिरवार, शुभम खवशी, मेश्रामजी, प्रमोद नितनवरे, मनोज उइके, अनिल थुल, ज्योति मिश्रा, डेजी उइके, मंजू लुकास, रॉबिन लुकास उपस्थित थे।

Advertisement

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement