Published On : Sun, Dec 24th, 2017

मेजर प्रफुल्ल अम्बादास की बिलखती मां बोलीं-‘बेटे ने अगले साल आने का किया था वादा, अब वो साल कभी नहीं आएगा’

Advertisement

जम्मू-कश्मीर में LoC के पास राजौरी सेक्टर में शुक्रवार को पाकिस्तान की गोलीबारी में भारतीय सेना के एक मेजर समेत 4 जवान शहीद हो गए, जबकि एक जवान गंभीर रुप से घायल हुआ है. पाकिस्तान ने ये गोलीबारी इंफैंट्री ब्रिगेड बटालियन की पेट्रोलिंग पार्टी को निशाना बनाकर की थी. पाकिस्तान की तरफ से किए गए इस हमले में सेना के मेजर प्रफुल्ल अम्बादास, लांस नायक गुरमेल सिंह, लांस नायक कुलदीप सिंह और जवान परगट सिंह शहीद हुए.

सेना के मुताबिक पाकिस्तान ने ये गोलाबारी कल दोपहर क़रीब 12 बजे की थी. थल सेना ने कहा है, कि भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तानी गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया है. शहीद मेजर प्रफुल्ल अम्बादास महाराष्ट्र के भंडारा के रहने वाले थे. अपने बेटे की तस्वीरों को हाथ में लिए शहीद मेजर की मां ने रोते हुए कहा, ‘मेरे बेटे ने वादा किया था कि वह अगले साल हमसे मिलने के लिए आएगा, लेकिन हमारे लिए वो अगला साल अब कभी नहीं आएगा’

पाकिस्तान के हमले में शहीद लांसनायक गुरमेल सिंह अमृतसर के अल्कारे गांव के रहने वाले थे. उनकी शहादत के बाद परिवार ने कहा है, कि सरकार को शहीदों के घर का ख़्याल रखना चाहिए. गुरमेल सिंह की सात साल की बेटी है, और वो पूरे परिवार में इक़लौते कमाने वाले थे.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement