Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, Apr 29th, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    गोंदिया: झटपट करोड़पति बनने की चाह ने उन्हें जेल पहुंचाया

    HDFC बैंक में चोरी का प्रयास , 4 गिरफ्तार

    गोंदिया : दुनिया में कौन सा ऐसा व्यक्ति होगा जो करोड़पति बनने का ख्वाब नहीं देखता होगा ? हर व्यक्ति चाहता है उसके पास बंगला हो , कार हो, दौलत हो , शोहरत हो ? लेकिन शानो -शौकत भरा जीवन जीने के लिए झटपट करोड़पति बनने की चाह में चार जिगरी दोस्तों ने मिलकर एक ऐसे अपराध का रास्ता चुना जिसने अब उन्हें जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है।

    तिजोरी को काटने हेतु इलेक्ट्रॉनिक कटर का इस्तेमाल
    गोंदिया तहसील के रावणवाड़ी थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम रजेगांव स्थित एचडीएफसी बैंक की शाखा में 23 अप्रैल की शाम 6:15 बजे से 27 अप्रैल की सुबह दरमियान वारदात घटित हुई।

    नकाबपोश चोरों ने इलेक्ट्रॉनिक कटर की सहायता से लोह तिजोरी को अपना निशाना बनाया , इस बैंक में बकायदा दाखिल होने से पहले इन बदमाशों ने बैंक के बाहर परिसर में लगे खुफिया सीसीटीवी कैमरों की तोड़फोड़ की और बैंक के शटर का ताला तोड़ नकाबपोशों ने भीतर प्रवेश किया तथा भीतर के कैमरे की तोड़फोड़ करने के बाद बैंक के अंदर रखी लोह तिजोरी को काटने हेतु इलेक्ट्रॉनिक कटर का इस्तेमाल किया लेकिन वह मजबूत तिजोरी खोल नहीं पाए जिस कारण बड़ी चोरी की वारदात होने से बच गई

    स्ट्रांग रूम के सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर मिले सुराग
    इस मामले में बैंक शाखा प्रबंधक फरियादी प्रदीप ईश्वर डोंगरे की रिपोर्ट पर रावनवाड़ी पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ धारा 457 , 380 , 511 , 427 का अपराध दर्ज किया।

    मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला पुलिस अधीक्षक मंगेश शिंदे ने जांच का जिम्मा लोकल क्राइम ब्रांच पुलिस को सौंपा । इस प्रकरण में जब पुलिस ने बैंक प्रबंधक से सुरक्षा के किए गए उपाय की जानकारी चाही तो मैनेजर ने बताया बैंक के स्ट्रांग रूम में भी सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं जब पुलिस में कैमरे की फुटेज को खंगाला तो 27 अप्रैल सुबह 6:30 बजे दो आरोपी नकाब पहने हुए दिखाई दिए जो बैंक के अंदर की गई हर हरकत के साथ तिजोरी तोड़ने का प्रयास करते हुए कैमरे में कैद हो गए थे।बदमाशों के सुराग तलाशने हेतु पुलिस ने खुफिया तंत्र की मदद ली तथा सुनील ब्रम्हे ( 26 सरकारटोला , काटी ) इसे 28 अप्रैल को धरदबोचा ।

    कड़ी पूछताछ में उसने अपना गुनाह कबूल करते हुए अपने अन्य 3 साथीदारों के नाम बताए उसकी निशानदेही पर महेंद्र नागवंशी (20, सरकारटोला ,काटी ) तेजलाल पंधरे (28 महलगांव पोस्ट- किरनापुर , जिला बालाघाट) अरविंद दसरे (22 हट्टा , जिला बालाघाट) इन्हें गिरफ्तार किया गया ।

    शातिरों ने इसी बैंक में इसके पूर्व भी लगाई थी सेंध
    गौरतलब है कि इसके पूर्व भी इसी रजेगांव की एचडीएफसी बैंक शाखा में 23 अगस्त 2019 से 26 अगस्त 2019 के दौरान चौरी की वारदात का असफल प्रयास इन्हीं शातिर चोरों द्वारा किया गया था इस बात की कबूली भी उन्होंने पूछताछ में की है ।

    इस प्रकरण की गुत्थी पुलिस अधीक्षक मंगेश शिंदे , अप्पर पुलिस अधीक्षक अतुल कुलकर्णी के मार्गदर्शन तथा स्थानिक अपराध शाखा के सहायक पुलिस निरीक्षक रमेश गर्जे के नेतृत्व में उप निरीक्षक तेजेंद्र मेश्राम , पुलिसकर्मी- लिलेंद्र बैस ,, गोपाल कापगते , विजय राहंगडाले , विनोद गौतम तथा साइबर सेल के पुलिस निरीक्षक राहुल शिरे , पुलिसकर्मी दीक्षित दमाहे , धनंजय शेंडे , प्रभाकर पालंदुरकर ,संजय मारवाड़े , विनोद बेरैया ने 24 घंटे के भीतर सुलझाने में कामयाबी हासिल की ‌।

    रवि आर्य


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145