Published On : Tue, May 19th, 2020

हलबा समाज ने कोरोना संकट में मुख्यमंत्री सहायता निधि में 5 लाख रुपए की मदद दी

नागपूर– महाराष्ट्र में कोरोना की महामारी फैली हुई है. इस दौरान मुख्यमंत्री ने भी आव्हान किया है, इसी आव्हान को ध्यान में रखते हुए हलबा समाज के विभिन्न संघटनो की ओर से राष्ट्रीय आदिम कृति समिति के माध्यम से 5 लाख रुपए की मदद देने का निर्णय लिया है. हलबा समाज की परिस्थिति खराब होने के बावजूद समाज के लोग और सामाजिक कार्यकर्ताओ की ओर से सभी की मदद की जा रही है. कोरोना की इस महामारी में मजदुर वर्गो को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. इस दौरान हलबा समाज के विभिन्न विभागों में काम करनेवाले कर्मचारी और अधिकारी भी लोगों की मदद कर रहे है.

राष्ट्रीय आदिम कृति समिति की ओर से मुख्यमंत्री सहायता निधि में 5 लाख रुपए जमा हो चुके है. नागपूर के जिलाधिकारी रविंद्र ठाकरे के मार्फ़त विधायक विकास कुंभारे ने 5 लाख रुपए का धनादेश जमा कराया है. इस दौरान विश्वनाथ आसई ,चंद्रभान पराते,प्रकाश निमजे ,धनंजय धापोडकर,धनराज पखाले ,अभय धकाते मौजूद थे.

हलबा समाज द्वारा आर्थिक सहयोग मिलने के लिए ओमप्रकाश पाठराबे ,दे.बा. नांदकर, मनोहर घोराडकर,शेलेंद्र हेडाऊ,हरिभाऊ नंदनवार,राजेंद्र बारापत्रे , नागोराव पराते,वासुदेव वाकोडीकर, महेश बारापात्रे, कैलास निनावे,गणेश कोहाड,विठ्ठल बाकरे ,रघुनंदन पराते,दिलीप पौनीकर ,प्रवीण हवेलीकर ,ज्ञानेश्वर दाढे,रमेश सहारकर, रामेश्वर बुरडे ,दिपक उमरेडकर,सुभाष भानारकर,प्रकाश दुलेवाले, श्रीकांत धकाते ,देवेंद्र बोकडे ,हरी चिंचघरे , भय्याजी बोकडे,तुकाराम सावनेरकर,कैलास हेडाऊ,जनार्धन धार्मिक, प्रदीप वाघ,धनराज कुंभारे,श्याम गोडबोले,दशरथ गहाणे,दिगंबर कुहीकर,हरीश निमजे,जितेंद्र बडवे ने कड़ी मेहनत की.