Published On : Mon, Mar 16th, 2015

कोंढाली क्षेत्र में भारी ओलावृष्टि


गेंहू-चना-संतरा फसल भी बर्बाद

कोंढाली (नागपुर)। नागपुर-वर्धा जिले के सीमा पर ओमावृष्टि से इस क्षेत्र में गेंहू-चना-संतरे की फसल बर्बाद हो गई है.

नागपुर जिले के काटोल तहसील के खापा-धोतीवाडा, किनकीधोडा, घुबडी, मसाला, मिनिवाडा, मासोद-कामठी तथा सीमा लगत के धानोली, मेट, मेटहिरी और नागाझरी क्षेत्र में 15 मार्च की शाम चार बजे भारी मेघ गर्जना एवं कड़कड़ाती बिजली के बीच भारी ओलावृष्टि हुई. साथ ही तेज आंधी भी बही. फलरूप इस क्षेत्र के गेंहू-चने का भारी नुकसान हुआ है. वही नींबू के आकर के ओले बरसने से संतरे के बगीचों का भारी नुकसान हुआ है. खापा-धोतीवाडा धानोली, नागाझरी क्षेत्र संतरा बेल्ट माना जाता है. अब तक इस क्षेत्र में बारिश हुई लेकिन रविवार की हुई ओलावृष्टि से पूरी फसल तहस महस हो गई.

रविवार की शाम चार बजे अचानक मौसम का रुख पलटा और भारी अंधेरे सहित ओलों की बारिश हुई. इस ओलावृष्टि से खापा-धोतीवाड़ा क्षेत्र के अनेक कवेलू के घरों के कवेलू फूंटे तथा गेंहू की खड़ी फसल झुक गई. इसी प्रकार चने की फसल तथा साग सब्जी एवं संतरे के फसल पर मार पड़ी है. इस घटना की जानकारी काटोल के एस.डी.ओ. अविनाश कातडे तथा तहसीलदार सचिन गोसावी को जानकारी दी गई. उन्होंने क्षेत्रीय मंडल अधिकारी जवंजाल तथा स्थानीय पटवारी मारोतकर तथा दहिफले एवं अन्य पटवारियों को घटनास्थल पहुंचकर जाँच के आदेश दिए है. जानकारी तहसीलदार सचिन गोलावी ने दी है. इस ओलावृष्टि में वित्तहानि होने की खबर है.
hailstorm