Published On : Mon, Nov 27th, 2017

कच्छ में गरजे मोदी, गुजरात के बेटों का अपमान करने की सजा जनता कांग्रेस को देगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज से गुजरात में चुनाव प्रचार शुरू कर रहे हैं. मोदी ने पहले दिन कच्छ के आशापुरा माता मंदिर में पूजा अर्चना की. इसके बाद कच्छ जिले के भुज शहर में लोगों को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए उसे वंशवाद का प्रतीक बताया. मोदी ने कांग्रेस पर सरदार पटेल की अनदेखी का भी आरोप लगाया. इसके अलावा आज वह राजकोट के जसदान शहर, अमरेली के धारी और सूरत जिले के कामरेज में सभा को संबोधित करेंगे.

क्या क्या कह रहे मोदी पढ़ें-
– मैं गुजरात की जनता का आशीर्वाद लेने निकला हूं. गुजरात मेरी आत्मा और मां है.
-क से कच्छ क से कमल होता है.
– पटेल के समय से गुजरात को पीछे करने का काम किया गया. एक तरफ विकास दूसरी तरफ वंशवाद.
-कांग्रेस ने महा गुजरात आंदोलन से जुड़े लोगों को मारा. कांग्रेस, गुजरात तुम्हें कभी माफ नहीं करेगा.
-मुझ पर आज तक कोई दाग नहीं लगा लेकिन कांग्रेस मुझ पर झूठा आरोप लगाती है.
-कांग्रेस के लोग गुजरात की धरती पर आकर उसी का अपमान करते हैं.
-कांग्रेस ने इसी तरह गुजरात के बेटे सरदार पटेल का भी अपमान किया.
-गुजरात के बेटों का अपमान करने की सजा गुजरात की जनता कांग्रेस को देगी.
-बीजेपी गुजरात में कम से कम 151 सीटें जीतेगी, जनता हमें आशीर्वाद देगी.
-अफसर कच्छ में पोस्टिंग नहीं चाहते थे क्योंकि यहां का पानी काला था. लोग अपने घर छोड़कर जा रहे थे. कांग्रेस ने नर्मदा का पानी कच्छ में आने का विरोध किया. क्या होता अगर 30 साल पहले नर्मदा का पानी कच्छ आ जाता? इससे यहां बहुत बड़ा असर दिखाई देता.
-कच्छ, एक ऐसी जगह जहां एक तरफ रेगिस्तान और दूसरी तरफ पाकिस्तान है. किसी ने सोचा नहीं था कि यहां खेती भी हो सकती है पर यहां दरिया तक ले आए.
-जब 2001 में कच्छ में भूकंप आया तो अटल बिहारी वाजपेयी जी ने मुझे इस क्षेत्र में लोगों के बीच काम करने के लिए भेजा था. उस दौरान मैंने बहुत कुछ सीखा था.