Published On : Sun, Jun 6th, 2021

गोंदिया: महिला ने दिखाई ईमानदारी, पुलिस ने निभाया कर्तव्य , नोटों भरा बैग व्यापारी को लौटाया

सड़क पर गिरा था बैंग ,सोशल मीडिया की मदद से पुलिस ने वास्तविक मालिक को खोजा

गोंदिया। कोरोना संकट काल के दौरान जहां लोग पाई- पाई के लिए मोहताज है ऐसे में शहर के मुर्री इलाके में ईमानदारी की एक ऐसी मिसाल देखने को मिली यहां एक महिला को सड़क पर गिरा 1लाख 14 हजार 900 रूपयों से भरा बैग मिला , मुर्री निवासी महिला सीमा सूरज दास ने बैग अपने पास रखी, जिसकी सूचना महिला ने आसपास के दुकानदारों के मदद से पुलिस तक पहुंचाई तथा पुलिस दल के पहुंचने पर रुपयों से भरा बैग पुलिस को सौंप दिया।

पुलिस ने भी सोशल मीडिया के जरिए मैसेज वायरल कर बैग के असली मालिक को खोजने का प्रयास शुरू किए, जिस कारोबारी के रुपए थे उस किराना व्यवसायी के शहर थाना कोतवाली पहुंचने पर तथा गुम हुए रुपयों भरे बैग के संदर्भ में सारी पुख्ता जानकारी देने के बाद वह बैग वास्तविक व्यक्ति को लौटाकर ईमानदारी की मिसाल कायम की।


शनिवार 5 जून को गश्त पर तैनात शहर थाने के अपराध प्रगटीकरण शाखा के पो.नायक जागेश्‍वर उईके तथा पो.ना. सुबोधकुमार बिसेन इन्हें जानकारी मिली कि, मुर्री से चुटिया मार्ग पर आर्शिवाद राईस मिल के सामने मोटर साइकिल से जा रहे एक व्यक्ति की रूपयों की बैग सड़क पर गिरी पड़ी है जिसे मुर्री निवासी महिला सीमा सूरज दास ने उठाकर अपने पास सुरक्षित रखी है।

सूचना के आधार पर पुलिस टीम मुर्री परिसर पहुंची और सड़क पर गिरी रूपयों भरी बैग के बारे में पूछताछ की जिसपर उक्त महिला ने पैसे पुलिस के सुपुर्द कर दिए।

बैग में 8 नोटों के बंडल थे कुल रूपये 1 लाख 9 हजार 900 रूपये तथा 5-10 रूपये के 5 हजार के सिक्के इस तरह कुल 1 लाख 14 हजार 900 रूपये पाए गए, उक्त रकम जब्त कर पुलिस ने बैग के असल मालिक की तलाश के लिए पथक तैयार करते हुए मार्ग पर लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाला तथा राईस मिल असोसिएशन व अन्य सामाजिक संस्था के व्हॉट्सअप ग्रुप पर रूपयों के बैग के संदर्भ में जानकारी देकर शहर पुलिस थाने से संपर्क करने का आव्हान भी किया गया।

सोशल मीडिया पर वायरल हुए मैसेज के बाद गोरेगांव तहसील के इसाटोला निवासी चैनलाल नत्थुलाल बिसेन ने शहर पुलिस को सूचित करते बताया कि, 5 जून के सुबह 11.45 बजे वह किराना सामान खरीदी के लिए इसाटोला से गोंदिया की ओर आ रहा था इसी दौरान उसकी मोटर साइकिल पर बंधी रूपयों की बैग मुर्री परिसर के रास्ते पर कहीं गिर पड़ी। उक्त व्यक्ति ने नोटों के विवरण की जानकारी भी पुलिस को दी जिसके बाद गोंदिया शहर थाने में रकम संबंधित के सुपुर्द कर दी गई।

मौजूदा कोरोना काल में महिला की सत्य निष्ठा और ईमानदारी तथा पुलिस के कर्तव्य प्रयासों से आखिरकार मूल मालिक को रकम लौटा दी गई।

रवि आर्य