Published On : Sun, May 16th, 2021

गोंदिया: सेंध लगाकर निकले शातिर चोरों को पुलिस ने दबोचा, सोने- चांदी के आभूषण बरामद

6 आरोपियों में एक नाबालिग , पिछली चोरियों की वारदातों के बारे में पूछताछ शुरू

गोंदिया: आमगांव रेलवे स्टेशन की ओर जाने वाले मार्ग पर कुम्भारटोली इलाके के एक सूने मकान में सेंध लगाकर सोने चांदी के आभूषणों की चोरी कर निकले 2 बदमाशों को लोकल क्राइम ब्रांच टीम ने रविवार 16 मई को पेट्रोलिंग के दौरान अर्ध रात्रि 1:45 बजे संदिग्ध अवस्था में घूमते दिखाई देने पर दबोच लिया।

संदेह के आधार पर जब उनसे पुलिस ने पूछा, तुम यहां क्या कर रहे हो , नाम क्या है ? तो पहले दोनों हड़बड़ा गए फिर एक ने अपना नाम ठुण्या उर्फ कुनाल (22) तथा दूसरे ने अपना नाम मयूर (21 दोनों रहवासी कुंभारटोली आमगांव) बताया।


दोनों के व्यवहार और उनके तौर- तरीकों से पुलिस का संदेह और मजबूत हो गया जिसपर पुलिस ने उनकी तलाशी ली तो ठुण्या उर्फ कुनाल के जेब से लाल रंग की जेवरात रखने की छोटी सी थैली पायी गई , उक्त थैली में से सोने-चांदी के आभूषण बरामद हुए इनमें 4 ग्राम वजनी एक सोने की अंगुठी (कीमत 15 हजार), 1 नग सोने की नथ (कीमत 3 हजार), 10 नग सोने के मणी (कीमत 15 हजार), 3 नग सोने के कान के झूमके (15 हजार), 2 सोने के पेंडल (कीमत 18 हजार), 68 नग छोटे मणी (18 हजार), 5 तोले के 6 नग चांदी के सिक्के (2 हजार), एक चांदी का टुकड़ा, 3 जोड़ी चांदी की पायल (2400 रूपये), इस तरह कुल 89 हजार 600 रूपये मूल्य के आभूषण पाए गए।


उक्त जेवरातों के संदर्भ में कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपी ठुण्या उर्फ कुनाल ने आभूषण भरी थैली कुछ दिनों पूर्व अपने साथीदारों के साथ मिलकर कुंभारटोली स्थित एक मकान से चुराने की बात कबूल की जिसके बाद चोरी में शामिल अन्य आरोपियों के नाम शुभम (22 रा. इंदिरानगर बिड़ी कॉलोनी डोंगरगड ह.मु. कुंभारटोली), सहयोग (19)., रिंकु गेडाम (19) तथा एक अन्य नाबालिक किशोर (17 सभी रहवासी कुंभारटोली आमगांव) के तौर पर सामने आए।

उक्त 6 ने मिलकर 10 मई से 11 मई के मध्य रात्रि दरमियान कुंभारटोली निवासी फरियादी अशोक नंदेश्‍वर के सूने बंद मकान में प्रवेश करते हुए उक्त चोरी की वारदात को अंजाम दिया था।

चोरी का पर्दाफाश होने के बाद , चोरी किए हुए गहने बरामद करते हुए आमगांव थाने में मुकदमा दर्ज कर पकड़े गए 5 आरोपियों से पुलिस द्वारा पूछताछ की जा रही है जबकि एक विधि संघर्ष किशोर की गिरफ्तारी नहीं की गई है।

पुलिस की मानें तो यह बेहद शातिर किस्म के चोर हैं और फिलहाल उनसे पिछली चोरियों की वारदातों के बारे में पूछताछ की जा रही है।
गौरतलब है कि बढ़ते अपराधों पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से जिला पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे के निर्देश पर स्थानीय अपराध शाखा पुलिस टीम विशेष धरपकड़ अभियान में जुटी है ।

उक्त कार्रवाई जिला पुलिस अधीक्षक विश्‍व पानसरे के मार्गदर्शन तथा एलीबी के पुलिस निरीक्षक बबन अव्हाड़ के नेतृत्व में पोउपनि अभयसिंह शिंदे, सहायक उपनि. लिलेंद्र बैस, पो.ह. राजेश बढ़े, पुलिस नायक. तुलसीदास लुटे, विठ्ठल ठाकरे, इंद्रजीत बिसेन, चेतन पटले,. मपोसि सुजाता गेडाम की ओर से की गई।

रवि आर्य