| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, Nov 26th, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    गोंदिया जिले में ‘तभी प्रवेश’ जब होगा ‘कोरोना टेस्ट’

    दिल्ली राजस्थान गोवा गुजरात से आने यात्रियों को rtPCR टेस्ट से गुजरना अनिवार्य

    गोंदिया जिले में बढ़ते कोरोना के कहर के बीच महाराष्ट्र सरकार के निर्देशानुसार गोंदिया कलेक्टर ने अहम फैसला लिया है तथा दिल्ली, राजस्थान , गोवा और गुजरात से गोंदिया जिले में हवाई , रेल , सड़क मार्ग से प्रवेश करने वाले यात्रियों के पास कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट का rt-pcr टेस्ट ( रियल टाइम ) का होना जरूरी कर दिया गया है , अगर किसी के पास टेस्ट रिपोर्ट नहीं है तो गोंदिया जिले में एंट्री के साथ उसे पहले कोरोना टेस्ट करवाना अनिवार्य होगा तभी उसे गोंदिया जिले में प्रवेश मिलेगा।

    बिरसी एयरपोर्ट पर यात्रियों की पहले जांच- फिर प्रवेश

    जिले में कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए जिला आपत्ती व्यवस्थापन प्राधिकरण के अध्यक्ष तथा जिला कलेक्टर दीपक कुमार मीणा ने 25 नवंबर को अधिसूचना जारी करते निवारक उपायों के रूप में जिले में प्रवेश करने वाले वीवीआईपी हवाई यात्रियों के लिए आरटी पीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट अपने साथ ले जाना (होना) अनिवार्य किया गया है।

    गोंदिया के बिरसी हवाई अड्डे पर निर्धारित लैंडिंग समय के 72 घंटे के भीतर की यह रिपोर्ट होनी चाहिए ? यदि उपरोक्त शर्तों को पूरा नहीं किया जाता तो संबंधित यात्रियों को अपने निजी खर्च से आरटी पीसीआर टेस्ट परीक्षण से गुजरना होगा इसके लिए बिरसी एयरपोर्ट अथॉरिटी को rt-pcr परीक्षण केंद्र स्थापित करना चाहिए और यात्रियों को सीधे परीक्षण के लिए चार्ज करना चाहिए , हवाई अड्डे के ऑपरेटर द्वारा परीक्षण किए जाने के बाद ही यात्रियों को जिले में जाने की अनुमति देनी चाहिए ऐसे सख्त निर्देश दिए गए हैं।

    सड़क मार्ग से पहुंचने वाले यात्रियों की भी होगी जांच तभी प्रवेश

    दिल्ली ( एनसीआर ) राजस्थान, गुजरात और गोवा से गोंदिया जिले में सड़क मार्ग से पहुंचने वाले यात्रियों के शरीर के तापमान और कोविड लक्षणों की जांच के नियोजन की जिम्मेदारी उपविभागीय अधिकारी (एसडीओ) के पास होगी , कोविड के लक्षणों की जांच के बिना यात्रियों को जिले में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी लेकिन लक्षणों वाले यात्रियों को अपने मूल स्थान पर लौटने का विकल्प दिया जाएगा तथा कोविड लक्षण वाले यात्रियों को एंटीजन टेस्ट के लिए पृथक किया जाएगा और एंटीजन टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आने पर ही यात्रियों को जिले के अंदर प्रवेश दिया जाएगा। जिन यात्रियों की रिपोर्ट पॉजिटिव होगी उन्हें आगे के उपचार के लिए कोविड केयर सेंटर ( CCC )भेजा जाएगा यहां भर्ती यात्रियों को इलाज का खर्च स्वयं उठाना होगा।

    गौरतलब है कि एकादशी के साथ ही शादी के मुहूर्त शुरू हो गए हैं विवाह समारोह में शामिल होने हेतु बड़ी संख्या मैं बाहरी प्रदेशों से मेहमान गोंदिया जिले में आते हैं लिहाजा सुरक्षा के मद्देनजर हर संभव एहतियातन कदम जिला प्रशासन द्वारा उठाए जा रहे हैं।

    रेलवे स्टेशन पर होगी रेल यात्रियों की कोविड जांच ,तभी प्रवेश

    दिल्ली , गोवा , गुजरात , राजस्थान से रेल मार्ग द्वारा गोंदिया जिले में आने वाले सभी यात्रियों को rtPCR टेस्ट करवाना आवश्यक रहेगा।
    जिले में आगमन के निर्धारित समय से 96 घंटे पहले की रिपोर्ट दी जानी चाहिए ? जिन यात्रियों के पास आरटी पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट नहीं है उनके कोविड लक्षणों की जांच की जाएगी ।

    रेलवे स्टेशन पर शरीर के तापमान को मापा जाएगा बिना लक्षण वाले यात्रियों को रेलवे स्टेशन से घर जाने की अनुमति होगी तथा कोविड लक्षण वाले यात्रियों के को अलग करके उनका एंटीजन परीक्षण किया जाएगा।

    टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव होने पर ही यात्रियों को जाने की अनुमति दी जाएगी जिन यात्रियों की रिपोर्ट पॉजिटिव होगी उन्हें आगे के उपचार के लिए कोविड केयर सेंटर ( सीसीसी ) में भर्ती किया जाएगा जहां यात्रियों को इलाज का सारा खर्च स्वयं वहन करना होगा ।

    संबंधित उपविभागीय अधिकारी उपरोक्त मानक प्रणाली व दिशा निर्देशों के सही पालन हेतु नोडल अधिकारी होंगे और समय-समय पर इसे सुनिश्चित करेंगे।

    आदेश का उल्लंघन करने वालों को आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के साथ-साथ भारतीय दंड संहिता 1860 का दोषी माना जाएगा और नियमों के तहत कार्रवाई की जाएगी ।

    रवि आर्य

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145