Published On : Wed, May 19th, 2021

गोंदिया: गीतांजलि एक्सप्रेस से शराब की बड़ी खेप बरामद

Advertisement

तस्करों ने शराब तस्करी का ट्रेंड बदला , 2 धरे गए

गोंदिया: कोरोना संकट काल के दौरान जारी सचारबंदी के तहत सड़क मार्ग पर नाकाबंदी और पुलिसिया सख्ती के चलते , शराब तस्करों ने तस्करी का ट्रेंड बदल दिया है तथा रेल मार्ग को ही अपना सुरक्षित रास्ता बना लिया है ।

Advertisement

अवैध शराब की खेप को गंतव्य स्थान तक पहुंचाने के लिए शराब माफिया ट्रेनों का सहारा ले रहे है ऐसे में रेलवे पुलिस ने भी गोंदिया से होकर गुजरने वाली सभी ट्रेनों की जांच पड़ताल तेज कर दी है।

Advertisement
Advertisement

यूं तो पूर्व में भी रेलमार्ग द्वारा शराब तस्करी की जाती रही है लेकिन लॉकडाउन में शराब माफियाओं की गतिविधियां कम होने के बजाए लगातार बढ़ती जा रही है, एैसे में रेलवे पुलिस भी संदिग्ध गतिविधियों पर विशेष नजर रखे हुए है।

इस दौरान ट्रेन के माध्यम से शराब तस्करी में जुटे 2 आरोपियों को एस्कॉटिंग स्टॉफ ने रंगेहाथों धरदबोचा है।

मामला 18 मई के रात लगभग 9.15 बजे उस वक्त का है, जब एस्काटिंग स्टॉफ को गीतांजली एक्सप्रेस (ट्रेन नं. 02259) में शराब की तस्करी किए जाने की गुप्त सूचना मिली।

जानकारी के आधार ट्रेन के आगमन पर तलाशी शुरू की गई तो ट्रेन की बोगी डी-2 में दो युवक संदिग्ध अवस्था में दिखायी दिए, उक्त दोनों युवकों के पास एक बड़ा बैग मौजूद था।

पूछताछ के दौरान उन्होंने अपना नाम आशिष माकर्डे (31 रा. दुर्ग) तथा किशोर अग्रवाल (37 रा. दुर्ग) बताया, दोनों को आरपीएफ पोस्ट लाया गया तथा बैग की तलाशी ली गई तो उसमें 90 एमएल भरती की 60 नग शराब भरी बोतलें पायी गई।

आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि, वे अधिक मुनाफा कमाने के लिए शराब की खरीदी कर दुर्ग में अवैध शराब बिक्री का व्यापार करते है तद्हेतु शराब की खरीदी कर वो दुर्ग ले जा रहे थे।

बहरहाल दोनों आरोपियों के खिलाफ मुंबई शराबबंदी कानून की धारा 65 (अ), 66 (ब) के तहत जुर्म दर्ज कर लिया गया है। उक्त कार्रवाई एएसआई विनोद साहू के नेतृत्व में की गई।

रवि आर्य

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
 

Advertisement