Published On : Sat, Apr 17th, 2021

गोंदिया:जयश्री टॉकीज काम्प्लेक्स की झुरमुट झाड़ियों में लगी भीषण आग

रिहायशी इलाके में मची खलबली , दमकल विभाग ने आग पर काबू पाया

गोंदिया। वर्षों से बंद पड़ी जयश्री टॉकीज के काम्प्लेक्स के खुले परिसर में स्थित झुरमुट झाड़ियों से निकली आग ने देखते ही देखते भयावह रूप धारण कर लिया जिससे आसपास के रिहायशी इलाके में 15 अप्रैल गुरुवार रात 10:45 बजे खलबली मच गई।

आग की ऊंची उठती लपटें इस काम्प्लेक्स के सामने स्थित दुकानें तथा प्रथम मंजिल पर स्थित ऑफिस की ओर बढ़ रही थी।

यह एक रिहायशी इलाका है लिहाज़ा अगल-बगल के लोग आग का विकराल रूप देख सहम गए , हादसे की जानकारी इलाके के लोगों ने पड़ोस के वार्ड के पार्षद लोकेश कल्लू यादव को दी , उन्होंने तत्काल आगजनी के घटना की जानकारी गोंदिया नगर परिषद दमकल विभाग को दी।

दमकल विभाग को सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की गाड़ी क्रमांक एम.एच 35/ एजे 866 यह मौके पर पहुंची तथा फायर अधिकारी लोकचंद भंडारकर के मार्गदर्शन में शिफ्ट इंचार्ज- भरने , फायरमैन- राजेश यादव , गजेंद्र पटले , पठान , ठाकरे तथा वाहन चालक बांते ने आग की ऊंची उठती लपटों पर तेज पानी का छिड़काव शुरू किया और आधे घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया।

नागपुर टुडे से बात करते फायर अधिकारी लोकचंद भंडारकर ने बताया- अच्छी बात रही कि कोई जनहानि नहीं हुई और आग की उठती लपटों पर समय रहते काबू पा लिया गया जिससे इस काम्प्प्लेक्स के एक छोर पर सामने तथा पहली मंजिल पर बनी दुकानें और ऑफिस भी सुरक्षित बचा लिए गए।


यह प्रॉपर्टी किसी तन्नुमल कारड़ा नामक व्यक्ति की बताई जाती है तथा आग इस काम्पलेक्स के खाली पड़े खुले प्लाट के कचरे के ढेर में लगी , दरअसल वर्षों से बंद पड़ी टॉकीज के बड़े गेट के भीतरी परिसर में उगी हुई घास और झूरमुट झाड़ियां सूख गई है इस कचरे ने झाड़ियों का रूप ले लिया है उसमें आग लगी और उसने विकराल रूप धारण कर लिया , जिसपर फायर गाड़ी से पानी की तेज बौछार का छिड़काव कर आग पर काबू पाया गया।
फायर अधिकारी भंडारकर ने बताया- आग लगने की सूचना रात 10:45 के आसपास नगरसेवक लोकेश यादव ने दूरभाष पर दी , उसी क्षण सिटी थाने से भी काम्प्लेक्स में आग लगने की सूचना मिली।

आग किन कारणों से लगी यह सामने नहीं आ पाया है , आग किसी व्यक्ति के सुलगते बीड़ी सिगरेट सुखी झाड़ियों में फेंकने से लगी या स्पार्किंग के चलते इसकी जांच की जा रही है।

इस आगजनी की घटना में कोई जानमालकियत का या आर्थिक नुकसान नहीं हुआ है।

रवि आर्य