Published On : Fri, Aug 9th, 2019

गोंदियाः शराब लदे 2 वाहन जप्त

तस्करी द्वारा गड़चिरोली भेजी जा रही थी शराब, क्राईम ब्रांच व आबकारी विभाग ने की कार्र्वाई

गोंदिया: गोंदिया से सटे पड़ोसी जिले गडचिरोली तथा चंद्रपुर में शराब बंदी होने की वजह से यहां बड़े पैमाने पर अवैध रूप से शराब पहुंचाई जाती है, इस बात की जानकारी आबकारी विभाग और जिला पुलिस प्रशासन को मिलने पर उन्होंने 8 अगस्त को अर्जुनी मोरगांव तहसील के 2 अलग-अलग इलाकों में कार्रवाई करते हुए ना सिर्फ रैकेट का पर्दाफाश किया बल्कि लाखों की शराब और दारू पहुंचाने में इस्तेमाल होने वाले वाहन भी जब्त किए।

जिला पुलिस अधीक्षक मंगेश शिंदे के मार्गदर्शन में स्थानिक अपराध शाखा पुलिस दल के निरीक्षक दिनकर ठोसरे के नेतृत्व में सहा. पुलिस निरीक्षक गोपाल कापगते और उनकी टीम ने गुप्तचर से मिली पुख्ता जानकारी के बाद अर्जुनी मोरगांव थाना क्षेत्र में देर रात मोर्चा संभाला तथा टाटा डीआय 207 पिकअप चार चक्का वाहन की धरपकड़ करते हुए अवैध शराब तस्करी में जुटे आरोपी अनिल (25 रा. चुुटिया), सरोजकुमार (20 रा. इंदिरा नगर पिंड़केपार, गोंदिया) इन्हें धरदबोचा। जब पुलिस ने वाहन की तलाशी ली तो उसके भीतर 9 प्लास्टिक के बड़े बोरे रखे थे, प्रत्येक बोरे में 90 एमएल भरे 400 पव्वे इस तरह 3600 पव्वे (कीमत 93,600 रू) जब्त किए गए।

उसी प्रकार वाहन से 10 नग कार्टून पेटियां भी बरामद हुई, प्रत्येक पेटी में 100 पव्वे इस तरह 1000 पव्वे बरामद हुए। शराब पहुंचाने में इस्तेमाल हो रहे वाहन की कीमत 3 लाख 90 हजार रूपये आंकी गई है। बहरहाल हिरासत में लिए गए दोनों आरोपियों के खिलाफ अर्जुनी मोरगांव थाने में धारा 65 (ई) 77 (अ) 83 (अ) (ब) महाराष्ट्र दारुबंदी कायदा का जुर्म दर्ज किया है। प्रारंभिक जांच में यह सामने आया है कि, उक्त अवैध शराब तस्करी के माध्यम से गोंदिया से गडचिरोली के लिए जा रही थी।

दुसरी कार्रवाई राज्य उत्पादन शुल्क विभाग अधिकारियों ने अर्जुनी मोरगांव सीमा क्षेत्र में की। नाकाबंदी तलाशी अभियान में एक सूमो चौपहिया वाहन से 90 एमएल भरी 25 शराब की पेटियां (कीमत 65 हजार) तथा वाहन मुल्य 3 लाख इस तरह कुल 3.65 लाख रूपये का माल बरामद किया। प्रारंभिक जांच में यह बात सामने आयी है कि, गोंदिया से यह शराब तस्करी के द्वारा गड़चिरोली में पहुंचायी जा रही थी।

बहरहाल पुलिस ने इस प्रकरण के संदर्भ में आरोपी वाहन चालक के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। उक्त कार्रवाई आबकारी विभाग अधीक्षक प्रवीण तांबे के मार्गदर्शन में स्टेट एक्साइज विभाग देवरी निरीक्षक की टीम द्वारा की गई।

रवि आर्य