Published On : Mon, Jul 26th, 2021

पिता द्वारा चॅटिंग करते हुए पकडे जाने पर लड़की प्रेमी के साथ भागी

Advertisement

– मामले में 3 आरोपी गिरफ्तार

नागपुर: एक पिता ने अपनी नाबालिग बेटी को प्रेमी के साथ चॅटिंग करते हुए रेंज हाथों पकड़ लिया और उसके बाद उसे काफी डांटा। लड़की ने इस बारे में प्रेमी को बताया तो वह अपने मित्रों के साथ कार से लड़की के घर पहुंचा। लड़की उसके कार में बैठी और दोनों घटनास्थल से फरार हो गए। लेकिन अंबाझरी पुलिस के बीट मार्शल की सतर्कता के चलते आधी रात को सभी को पकड़ लिया गया। लड़की को उसके परिजनों को सौंपने के बाद उसके प्रेमी युवक और उसके दो मित्रों पर अपहरण का मामला दर्ज किया गया है। इसके पश्चात तीनों को गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों में गिरीश गणेश गोडबोले (20), ऋषिकेश रामचंद्र पाटील (24) और अनुराग गजानन नागतोडे (19) के निवासी है।

Advertisement
Advertisement

गिरीश ग्रॅज्युएशन कर रहा है। पीड़ित लड़की उसी के कॉलेज में 12 वी की छात्रा है। एक ही कॉलेज में पढ़ते पढ़ते दोनों में मित्रता हुई जो जल्द प्रेम संबंध में तब्दील हो गई। दोनों अक्सर एक दुसरे के साथ मिलते और चॅटिंग करते। ऑनलाईन क्लासेस ख़तम होने के बाद भी लड़की फोन पर ऑनलाइन रहती थी। यहां तक खाना कहते समय भी वह मोबाइल चलती थी। यह सब देखकर उसके परिजनों को दाल में कुछ कला नज़र आया।

शनिवार सुबह भी वह गिरीश के साथ चॅटिंग कर रही थी। इस दौरान उसके पिता उसके निकट आए। लड़की ने घबराकर फोन छुपाने का प्रयास किया। तब उसके पिता का शक यकीन में बदल गया और उन्होंने फोन लेकर व्हॉट्सऍप के सरे चैट का निरीक्षण किया। गिरीश के साथ हुई चॅटिंग का निरीक्षण करने के बाद उसके पिता को दोनों के बीच चल रहे प्रेम संबंध के बारे में पता चला। लड़की के मां बाप ने इस पर उसे काफी डांटा और उसे पढाई पर ध्यान देने के लिए कहा।

रात को 1 बजे पुलिस को मिली कामयाबी:
परिजनों के डांटने की घटना के बारे में लड़की ने गिरीश को बताया। गिरीश को लगा कि उसकी प्रेमिका पर उसके परिजन ज़ुल्म कर रहे हैं। उसने अपने मित्र ऋषिकेश और अनुराग को फोन करके उससे मिलने के लिए बुलाया। तीनों कार से लड़की के घर के निकट पहुंचे। लड़की उनके कार में बैठ गई और चारों घटनास्थल से फरार हो गए। दिन भर यहां वहां घूमने के बाद रात को 1 बजे के आस पास तीनों कार में अंबाझरी के निकट घूम रहे थे।

इस दौरान गश्त पर बीट मार्शल की टीम ने आरोपियों को देखा और उन्हें शक हुआ। कर के निकट जाने के बाद उन्हें 3 युवकों के साथ एक लड़की नज़र आई। जब पुलिस दल के सदस्यों ने उनसे पूछताछ की तो लड़की ने संतोषजनक उत्तर नहीं दिए। डाटने और कार्रवाई की धमकी देने के बाद लड़की ने अपने बारे में जानकारी दी। बीट मार्शल ने बेलतरोडी पुलिस को घटना की जानकारी दी। बेलतरोडी पोलिस घटनास्थल पर पहुंची। लड़की को हिरासत में लेकर उसके घर ले जाकर उसके परिजनों को सौंप दिया गया। लड़की नाबालिग होने के कारण पुलिस ने उसपर कोई कार्रवाई नहीं की। बेलतरोडी पुलिस ने तीनों आरोपी युवकों के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया है और उन्हें गिरफ्तार कर लिया है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement