Published On : Thu, Dec 15th, 2016

विदेशी निवेश में महाराष्ट्र ने गुजरात को पछाड़ा, कुल निवेश का 50 फीसदी राज्य में

subhash-desai
नागपुर:
 प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में महाराष्ट्र ने पहला स्थान हासिल किया है खास बात है इस मामले में गुजरात महाराष्ट्र से काफी पीछे है। भारत सरकार की संस्था डिपार्टमेंट ऑफ़ इंडस्ट्रियल पालिसी एंड प्रमोशन (डीआयपीपी )की हालिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए उद्योग मंत्री सुभाष देसाई ने यह जानकारी विधानपरिषद में दी। अप्रैल 2016 से सप्टेंबर 2016 इन 6 महीनों की इस रिपोर्ट के मुताबिक देश भर में 1,44,674 करोड़ का निवेश हुआ जिसमे से 68,409 करोड़ रूपए का निवेश अकेले महाराष्ट्र में हुआ।

उद्योग मंत्री के मुताबिक यह अकड़ा प्रयत्क्ष विदेशी निवेश का है अगर इसमें कैपिटल कॉस्ट को जोड़ा जाये तो निवेश का अकड़ा और बढ़ जायेगा। देश में निवेश को बढ़ावा देने के लिए डीआयपीपी कार्य करती है। यह निवेश केंद्र और राज्य सरकार द्वारा निवेश और उद्योग के लिए अपनायी गयी पॉलिसी की वजह से होने की जानकारी सुभाष देसाई ने दी। इस रिपोर्ट में गुजरात 6 वे नंबर पर है। जबकि महाराष्ट्र के बाद दिल्ली जहाँ 23,416 करोड़,तमिलनाडु में 4,136 करोड़,कर्नाटक में 7,216 करोड़ आंध्रप्रदेश में 7,204 करोड़ जबकि गुजरात में 2,462 करोड़ का निवेश हुआ।

जिन क्षेत्रो में निवेश हुआ है उनमे सेवा, गृहनिर्माण, टाउनशिप, मुलभुत सुविधाओं का विकास, सॉफ्टवेयर – हार्डवेयर, दूरसंचार, मेडिकल और ऑटोमोबिल शामिल है। राज्य में मोरिशस, सिंगापूर, इंग्लैंड, जापान, अमेरिका और नीदरलैंड शामिल है। उद्योगमंत्री ने जिस समय सदन में यह जानकारी दी उसके ठीक बाद विपक्ष की ओर से सुनील तटकरे ने सरकार का अभिनंदन किया। तटकरे ने कहाँ वाइब्रेंट गुजरात पर वाइब्रेंट महाराष्ट्र भारी पड़ा है यह हर्ष की बात है।